उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मथुरा जिले (Mathura District) के एक रिक्शा चालक (rickshaw driver) को आयकर विभाग (Income tax department) का नोटिस मिला है। नोटिस तीन करोड़ रुपए से अधिक भुगतान करने के संदर्भ में दिया गया है। नोटिस मिलने के बाद घबराए हुए रिक्शाचालक ने पुलिस के पास गुहार लगाई है।

मामला बाकलपुर क्षेत्र की अमर कॉलोनी निवासी प्रताप सिंह से जुड़ा है। प्रताप सिंह ने राजमार्ग थाने में अपनी गुहार लगाते हुए ठगे जाने की शिकायत दर्ज करवाई है। प्रताप सिंह ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी अपलोड किया है। इसमें उसने कहा है कि उसने बाकलपुर में जन सुविधा केंद्र पर पैन कार्ड के लिए आवेदन किया था। 

उसे पैनकार्ड की रंगीन प्रति दी गई, मूल प्रति नहीं मिली। ऐसे में संभव है कि उसके पैनकार्ड के जरिए किसी ने उनके नाम पर जीएसटी नंबर प्राप्त किया और उसने 2018-19 में 43, 44, 36, 201 रुपए का कारोबार किया।

प्रताप सिंह के मुताबिक उसे 19 अक्टूबर को आयकर अधिकारियों से फोन आया और उसे नोटिस दिया गया कि उसे 3,47,54,896 रुपए का भुगतान करना है। सिंह के अनुसार आयकर अधिकारियों ने उसे प्राथमिकी दर्ज कराने की सलाह दी है। इसके बाद पुलिस में शिकायत दी गई है।