उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी (सपा) के विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) पुष्पराज जैन उर्फ ‘पम्पी’ (samajwadi party mlc Pushpraj Jain) के कन्नौज स्थित घर पर शुक्रवार को आयकर विभाग की छापेमारी हुयी। सूत्रों के अनुसार पम्पी के कन्नौज स्थित घर पर सुबह सात बजे से आयकर विभाग से छापेमारी (income tax red) शुरु हुयी थी। 

समझा जाता है कि आयकर विभाग (income tax) ने पम्पी के अलावा कन्नौज के अन्य इत्र कारोबारियों के ठिकानों पर भी छापेमारी की है। इस बीच सपा ने ट्वीट कर पार्टी के विधायक के घर पर छापेमारी को लेकर भाजपा (BJP) पर तंज भी कसते हुये आयकर विभाग को भाजपा का परम सहयोगी बताया। सपा के आधिकारिक ट्विटर हैंडिल से किये गये ट्वीट में कहा गया, पिछली बार की अपार विफलता के बाद इस बार भाजपा के परम सहयोगी आयकर विभाग (income tax) ने सपा एमएलसी पुष्पराज जैन (Pushpraj Jain) और कन्नौज के अन्य इत्र व्यापारियों के यहां पर आखिर छापे मार ही दिये है। डरी भाजपा द्वारा केंद्रीय एजेंसियों का खुलेआम दुरुपयोग, यूपी चुनावों (UP assembly elections) में आम है। जनता सब देख रही है, वोट से देगी जवाब। 

इससे पहले आयकर विभाग ने कन्नौज के इत्र कारोबारी पीयूष जैन (Perfume businessman Piyush Jain) के ठिकानों पर पिछले कुछ दिनों से चल रही छापेमारी में लगभग 200 करोड़ रुपये की नकदी और 75 किग्रा से अधिक सोना चांदी बरामद किया था। आयकर विभाग का दावा है कि यह किसी व्यक्ति के घर से मिली रकम की अब तक की सबसे बड़ी बरामदगी थी। पीयूष जैन (Piyush Jain) के कन्नौज और कानपुर स्थित ठिकानों पर छापेमारी के दौरान ही पम्पी जैन का नाम भी सामने आया था। उस समय सपा नेताओं ने पीयूष जैन द्वारा सपा इत्र बनाये जाने संबंधी रिपोर्टों का खंडन किया था। इस बीच सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इत्र कारोबारी पीयूष जैन से सपा का कोई संबन्ध नहीं होने का खुलासा करने के लिये आज कन्नौज में ही संवाददाता सम्मेलन बुलाया था। इससे पहले ही पम्पी जैन के कन्नौज स्थित घर पर आयकर छापेमारी शुरु हो गयी। केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड या आयकर विभाग की ओर से छापेमारी को लेकर फिलहाल कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गयी है।