मेघालय में पिछले तीन दिनों से जारी भारी बारिश के कारण बाढ जैसे हालात बन गए हैं और शिलांग में यूकेलिप्टस का पुुराना पेड़ गिरन से तीन लोगों की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि राज्य के दक्षिण और पश्चिम गारो जिलों में बाढ़ के कारण लगभग 800 लोग प्रभावित हुए हैं। 

उन्होंने बताया कि गत गुरूवार से जारी भारी बारिश के कारण दक्षिण और पश्चिम गारो जिलों में बाढ़ की स्थिति बन गई है और लोगों को अपने घरों को छोड़कर राहत शिविरों में शरण लेनी पड़ी है। बाढ से कुरकोल, दीमापारा और गासुआपारा क्षेत्र सर्वाधिक प्रभावित है। 

पूर्वी खासी जिले के पुलिस अधीक्षक डेविस माराक ने बताया कि आज शाम यहां राजभवन के निकट तीन वाहनों के उपर यूकेलिप्टस का एक पुराना पेड़ गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए। मृतकों में एक महिला शामिल है। यह पेड़ काफी पुराना था औैर इसके पास बिजली के खंबे लगाने के कारण की गई खुदाई और बारिश के कारण जड़ें ढीली होने की वजह से यह इन वाहनों के उपर गिर गया। इन तीनों की अभी तक पहचान नहीं हो सकी है।