पंजाब के कांग्रेस सांसदों के साथ सोनिया गांधी ने बैठक की है. इस बैठक में कांग्रेस के नेताओं ने हार का ठीकरा एक दूसरे पर फोड़ना शुरू कर दिया है. सूत्रों की मानें तो अजय माकन और हरीश रावत को लोगों ने हार का जिम्मेदार ठहराया है.

सूत्रों की मानें तो कांग्रेस के एक सांसद ने अजय माकन को जल्लाद तक कह दिया है. कहा जा रहा है कि पार्टी के पंजाब प्रभारियों ने अपना काम सही ढंग से नहीं किया और पैसे लेकर टिकट वितरण किया.

यह भी पढ़े : भारत का हमला मानकर पाकिस्तान ने भारत पर मिसाइल दागने की कर ली थी तैयारी , ऐन वक्त पर बदला फैसला


पंजाब कांग्रेस के 8 सांसदों के साथ सोनिया गांधी की बैठक में जमकर आरोप-प्रत्यारोप चले. कांग्रेसी सांसदों ने हार का ठीकरा प्रभारी हरीश चौधरी और स्क्रीनिंग कमिटी के चेयरमैन अजय माकन पर फोड़ा. बैठक में एक सांसद ने कहा कि 2021 में खड़गे कमेटी के गठन से पंजाब में कांग्रेस के पतन की शुरुआत हो गई थी. खड़गे कमेटी का उद्देश्य सिर्फ कैप्टन को हराना था. 

बैठक में एक अन्य सांसद ने कहा कि जिस जल्लाद (अजय माकन) ने दिल्ली में कांग्रेस को बर्बाद किया उसे आपने पंजाब के स्क्रीनिंग का चेयरमैन बना दिया. बैठक में पंजाब के सांसद जसबीर गिल ने खुलकर हरीश चौधरी और अजय माकन के खिलाफ बगावत कर दी. गिल ने आरोप लगाए कि हरीश चौधरी और माकन ने पैसे लेकर टिकट बेच दिया. 

यह भी पढ़े : मोदी सरकार का बड़ा ऐलान-अब राशन कार्ड के बिना भी ले सकते हैं योजना का लाभ, जानिए कैसे


इसी बैठक में कुछ सांसदों ने सुनील जाखड़ पर आरोप लगाया कि बतौर 4 साल अध्यक्ष रहते हुए उन्होंने पंजाब में हिंदू और सिख के बीच खाई बढ़ाने का काम किया. सभी सांसदों ने एक सुर में कहा कि पार्टी के बड़े नेताओं ने जिस तरह से एक-दूसरे के खिलाफ सार्वजनिक मंच से आरोप प्रत्यारोप किया वो हार की बड़ी वजह बनी. बैठक में कैप्टन अमरिंदर सिंह की पत्नी परनीत कौर मौजूद थीं. लेकिन उन्होंने कुछ नही बोला.