बीजेपी  के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल नए सभी 43 मंत्रियों को 15 अगस्त के तुरंत बाद जनता से सीधे संवाद करने का निर्देश दिया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा के तरफ़ से सभी नए केंद्रीय मंत्रियों को लिखी गई चिट्ठी में जन आशीर्वाद यात्रा करने का निर्देश दिया गया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश पर पार्टी के महामंत्री तरुण चुग ने 'जन आशीर्वाद यात्रा' कैसे करना है इसका निर्देश सभी नए केंद्रीय मंत्रियों को भेजा है।

सभी नवनियुक्त मंत्रियों को निर्देश है कि उन्हें जन आशीर्वाद यात्रा में 300 से 400 किलोमीटर की दूरी तय करना है। सभी मंत्रियों को इस तरह के कार्यक्रम बनाने का निर्देश दिया गया है ताकि वे कम से कम तीन से चार लोकसभा क्षेत्र और 4 से 5जिला को अपनी यात्रा के दौरान जायें। 

जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान यात्रा के मार्ग में पड़ने वाले प्रसिद्ध धार्मिक साधु संत, प्रसिद्ध सामाजिक नेता, साहित्यकार, समाज सेवक, पूजनीय स्थल, अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय खिलाड़ी, देश की सेवा में शहीद परिवार और विभूतियों के घर को अवश्य शामिल करने और वहाँ जाने के निर्देश दिया गया है।

बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा की ओर से जारी की गई गाइड लाइन में कहा गया है कि केंद्रीय मंत्रियों को इन सभी जगहों पर जाने का भी कार्यक्रम जन आशीर्वाद यात्रा में शामिल करना है। पत्र में ये भी कहा गया है कि सभी केंद्रीय मंत्रियों को अपने यात्रा में केंद्र सरकार की आंतरिक, राष्ट्रीय, आर्थिक, सामाजिक, जन स्वास्थ्य, आत्मनिर्भर भारत, रोजगार आदि जन हितैषी नीतियों आदि के पोस्टर बैनर का भी प्रयोग करना है। जन आशीर्वाद यात्रा में सभी नए और पुराने कार्यकर्ताओं को शामिल करने की भी बात कही गई है ताकि सभी कार्यकर्ताओं का भी सम्मान नए केंद्रीय मंत्रियों के द्वारा किया जा सके। 

पार्टी अध्यक्ष नड्डा की ओर से जारी किए गए निर्देश में यह भी कहा गया है कि जन आशीर्वाद यात्रा में कोरोना प्रोटोकॉल का भी ख्याल रखा जाए। इसके साथ ही सभी केंद्रीय मंत्रियों को यह भी निर्देश दिया गया है कि जन आशीर्वाद यात्रा का प्रारंभ स्थानीय रेलवे स्टेशन या फिर एयरपोर्ट के नजदीक किया जाए जिससे कि कार्यक्रम की शुरुआत समय पर हो जाए। 

सभी नए केंद्रीय मंत्रियों को 16-17 अगस्त और 19-20 अगस्त के दौरान जन आशीर्वाद यात्रा निकालने का निर्देश दिया गया है। जन आशीर्वाद यात्रा को तीन दिवसीय बनाने का भी निर्देश पार्टी की ओर से दिया गया है। जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान पार्टी की ओर से यात्रा प्रभारी यात्रा सह प्रभारी सहित विभिन्न प्रकोष्ठ के इंचार्ज बनाने का भी निर्देश पार्टी की ओर से दिया गया है। इस कार्यक्रम के प्रचार प्रसार के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस सहित सोशल मीडिया के उपयोग का भी  निर्देश दिया गया है।