प्रधानमंत्री की कुर्सी गंवाने के बाद अब परेशानियां इमरान खान का पीछा नहीं छोड़ने वाली हैं। इमरान खान को मिले गिफ्ट की लिस्ट सामने आई है। गिफ्ट को लेकर पहले से ही विवाद चल रहा है और अब नया लिस्ट सामने आने से इमरान की मुश्किलें और ज्यादा बढ़ने वाली हैं। इमरान खान और बुशरा बीवी को मिले 329 गिफ्ट की लिस्ट सामने आई है। इमरान खान और बुशरा बीवी को मिले महंगे गिफ्ट में रोलेक्स की 7  घड़ियों के साथ दूसरी महंगी घड़ियां, महंगे पेन, सोने की कफलिंक, सोने और हीरे के गहने, अंगूठी, सोने से बनी एके-47 सहित और कई महंगे गिफ्ट शामिल हैं। 

यह भी पढ़ें : SKDC 2 मई से करेगा पहले विलेज ओपन वॉलीबॉल टूर्नामेंट का आगाज, मिलेगा इतना बड़ा पुरस्कार

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान कोई कई महंगे गिफ्ट मिले थे लेकिन, उन्होंने इसे बेच दिया। जब इमरान सत्ता में थे तब भी ये मामला सुर्ख़ियों में आया था। लेकिन उनके प्रधानमंत्री रहते इस मामले की जांच नहीं हो पा रही थी। अब पाकिस्तान की सबसे बड़ी जांच एजेंसी फेडरल इनवेस्टिगेशन एजेंसी (FIA) इमरान खान को मिले वो तोहफे ढूंढ रही है जो इमरान को प्रधानमंत्री रहते हुए विदेशों से मिले थे। इन सबकी कीमत बहुत ज्यादा थी। इमरान और उनकी पत्नी बुशरा बीबी पर आरोप हैं कि उन्होंने गिफ्ट को बेच दिया है। पाकिस्तान में गिफ्ट मिलने के बाद उन्हें बेचने की इजाजत नहीं है। 

ये गिफ्ट पाकिस्तान के खजाने में होने चाहिए थे, लेकिन अब तक की जानकारी के मुताबिक, इमरान पर आरोप है कि उन्होंने गिफ्ट बेच दिए। मालूम हो कि लम्बे समय से ऐसी शिकायतें मिल रही थीं कि पीएम इमरान को मिलने वाले गिफ्ट देश की ट्रेजरी यानी खजाने में नहीं पहुंच रहे हैं। ऐसे में FIA ने इनकी तलाश शुरू की। इस विवाद में बुशरा बीबी की मुश्किल भी बढ़ने वाली है। क्योंकि उनपर आरोप है कि उन्होंने ज्वेलरी शोरूम में ज्वेलरी बेचने के लिए दी। अब FIA, बुशरा बीबी और बुखारी के खिलाफ केस दर्ज करने की तैयारी में है।

किसी भी देश के प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति को गिफ्ट के तौर पर मिला सामान, पद को दिया गया सम्मान होता है। पाकिस्तान में प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति या दूसरे पदों पर रहने वाले लोगों को मिले तोहफों की जानकारी उन्हें नेशनल आर्काइव को देनी होती है। फिर इसे तोशाखाना यानी ट्रेजरी में जमा करना होता है। इस मसले पर इस्लामाबाद हाई कोर्ट की टिप्पणी भी सामने आयी है। कोर्ट का कहना है कि विदेशी सरकारों द्वारा सरकारी अधिकारियों को दिए गए उपहार पाकिस्तान राज्य के हैं, न कि कुछ व्यक्तियों के।

पाकिस्तान की वेबसाइट का दावा है कि बतौर प्रधानमंत्री विदेशों से मिले उपहारों को इमरान ने बेचकर पैसे कमाए। वेबसाइट का दावा है कि इमरान खान और उनकी पत्नी बुशरा बीबी ने पाकिस्तान सरकार के कोषागार से 14.2 करोड़ रुपये के उपहारों को मात्र 4 करोड़ रुपये देकर हड़प लिया था।

यह भी पढ़ें : सिर्फ इतने से रुपए में करें अरुणाचल की खूबसूरत जगहों की यात्रा, IRCTC दे रही ऑफर

इस मामले की शुरुआत 2021 में हुई। इमरान खान तब खाड़ी देशों के दौरे पर गए थे। लौटते वक्त वहां के किसी शाही परिवार ने उन्हें याद के तौर पर कुछ गिफ्ट्स दिए। इनमें एक डायमंड नेकलेस भी था। इमरान को यह नेकलेस तोशाखाना (ट्रेजरी) में जमा कराना था। लेकिन बुशरा बीबी ने इसे अपने पास रख लिया।