मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है कि नगालैंड समेत देश के कई राज्यों में भारी बारिश हो सकती है, जबकि तेलंगाना और हैदराबाद में स्थिति गंभीर हो सकती है। यह स्थिति अरब सागर के ऊपर बने निम्न दबाव क्षेत्र के कारण हुई है। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार यह दबाव का क्षेत्र भारतीय तट से दूर जा रहा है हालांकि इससे पश्चिमी तट के मौसम में किसी खास बदलाव के आसार नहीं हैं। इसके अगले 48 घंटों में पश्चिम की ओर और आगे बढ़ने और फिर कमजोर पड़ने की संभावना है। विभाग ने मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है।

इसके चलते सौराष्ट्र और कच्छ के तटीय इलाकों में कुछ जगहों पर हल्की बारिश हुई। इसकी वजह से आंध्र प्रदेश, यनम और रायलीसमा में अगले चार दिनों तक गरज चमक और तेज हवा के साथ भारी बारिश की आशंका है।

स्काईमेट वेदर के अनुसार अगले 24 घंटे में गुजरात,नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, और अंडमान व निकोबार द्वीप समूह पर भारी बारिश के साथ कई क्षेत्रों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। इसके साथ ही महाराष्ट्र, गंगीय पश्चिम बंगाल, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, दक्षिण और दक्षिण-पूर्वी राजस्थान और तमिलनाडु के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। कर्नाटक, केरल और दक्षिणी मध्य प्रदेश के भी कुछ हिस्सों में बारिश हो सकती है।
तेलंगाना और कर्नाटक के अनेक हिस्सों में रविवार को बाढ़ के हालात गंभीर बने रहे जहां हैदराबाद में रातभर बारिश के बाद कुछ हिस्सों में फिर बाढ़ जैसे हालात बन गए, वहीं कर्नाटक के चार प्रभावित जिलों में सेना को लगाया गया है। शनिवार से हैदराबाद के अनेक हिस्सों में बाढ़ से स्थिति बहुत खराब हो गयी है और बारिश से जुड़ी अलग-अलग घटनाओं में तीन लोगों की मौत हो गयी।