मौसम विभाग (indian meteorological department) ने चेतावनी जारी की है ​कि मानूसन अभी विदा नहीं होने वाला है। इसके चलते देश के कई राज्यों में एकबार फिर 22 अक्टूबर से बारिश शुरू होगी जो 24 अक्टूबर तक चलेगी। इन राज्यों में बिहार से लेकर उत्तराखंड समेत देश के कई हिस्से शामिल है। मौसम विभाग ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में 22 अक्टूबर से 24 अक्टूबर तक फिर से बारिश और बर्फबारी होने का अनुमान जताया है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा कि देश भर से दक्षिण-पश्चिम मानसून 26 अक्तूबर तक विदा हो जाएगा। इससे उत्तर-पूर्वी मानसून के आने का रास्ता प्रशस्त हो जाएगा।

उत्तर-पश्चिम भारत से देर से विदा होने के बाद दक्षिण-पश्चिम मानसून (monsoon) अब भी देश के कुछ हिस्सों में सक्रिय है। आईएमडी ने कहा कि पूर्वोत्तर भारत के शेष हिस्सों, बंगाल की समूची उत्तरी खाड़ी, पश्चिम बंगाल और ओडिशा के शेष हिस्सों, मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के कुछ हिस्सों, गोवा, कर्नाटक के कुछ हिस्से और मध्य अरब सागर के कुछ और हिस्से में 23 अक्तूबर के आसपास से दक्षिण-पश्चिम मानसून के और पीछे हटने के लिए परिस्थितियां अनुकूल होती जा रही हैं।

मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी और दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत पर निचले क्षोभमंडल (पृथ्वी के वायुमंडल का सबसे निचला स्तर) स्तरों में उत्तर-पूर्वी हवाओं के आने की संभावना के साथ, दक्षिण-पश्चिम मानसून के 26 अक्तूबर के आसपास पूरे देश से चले जाने की संभावना है।

मौसम विभाग (mausam) की ओर से गुरुवार को उत्तर बिहार के कई जिलों में बारिश होगी जिसको लेकर भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं, 23 अक्टूबर से पूरे बिहार में मौसम शुष्क होने का पुर्वानुमान है।