बांद्रा टर्मिनस-दिल्ली सराय रोहिल्ला सुपरफास्ट एक्सप्रेस में बैठ कर एक शख्स अपने घर पंहुच गया और बाद में जांच हुई तो पता चला कि उसे कोरोना है। यात्रा करने वाला यह शख्स दुबई से लौटा था और बांद्रा टर्मिनस-दिल्ली सराय रोहिल्ला सुपरफास्ट एक्सप्रेस से राजस्थान के पाली में अपने घर भी चला गया।

माधो सिंह, पुरोहित का बास, सुमेरपुर के रहने वाले हैं। यह राजस्थान के पाली में पड़ता है। दूबई में काम करते हैं। कोरोना का प्रभाव दुनियाभर में बढ़ा तो देश लौटे। मगर कोरोना लेकर। जैसा कि पाली जिले के मुख्य चिकित्साधिकारी का कहना है। पहले माधो सिंह, एयर इंडिया की फ्लाइट से मुंबई आए। फिर बांद्रा टर्मिनस-दिल्ली सराय रोहिल्ला सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन पकड़ी।दोपहर के 1.30 बजे। बोरीवली रेलवे स्टेशन से। एस-3 में रिजर्वेशन था। 42 नंबर की मीडिल सीट थी। अजमेर से एक स्टेशन पहले रानी स्टेशन पड़ता है। रात के 2.30 बजे ट्रेन का पंहुचने का समय है। माधो सिंह रानी स्टेशन पर उतर गए। अगले दिन जब इन्हें कोरोना के लक्षण लगे तो जांच की गई। रिपोर्ट पॉज़िटिव निकला। जिसके बाद पाली के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने जयपुर रेलवे मंडल को पत्र लिख कर साथ के सभी यात्रियों का रिकॉर्ड मांगा है।

हमारी बात पाली के डिप्टी सीएमओ डॉ. विकास मारवाल से हुई। उन्होंने हमें बताया, यह केस कंफर्म है। मरीज को सिम्ट्म्स थे। हमने जांच की है। मरीज पूरी देखरेख में रखा गया है। इलाज चल रहा है। साथ ही हमने रेलवे को भी लिखा है कि बाकी यात्रियों के विवरण दें। जिससे कि साथ के सभी यात्रियों की भी जांच की जा सके।

कोरोना वायरस के मामले रोज़ बढ़ रहे हैं। पूरी दुनिया में कोरोना के तीन लाख 90 हज़ार से ज्यादा मामले सामने आए हैं, और 16 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। 24 मार्च की शाम तक भारत में भी 511 मामले सामने आ चुके हैं, और 10 लोगों की मौत हो चुकी है।