भारत में चाय एक ऐसा पेय पदार्थ है जिसे अधिकांश लोग पीना पसंद करते हैं।  सर्दियों के मौसम में तो मानो इसकी खुराक हर किसी को चैन सुकून देती है।  चाय के शौकिन आजकल आपको हर कहीं मिल जाएंगे।  अगर आप भी चाय पीने के शौकीन हैं तो हाल ही में हुई रिसर्च में कुछ ऐसा खुलासा हुआ है जिसके बारे में आपको पता होना बेहद जरूरी है। 

रोज चाय पीने वाले लोगों का दिमाग चाय नहीं पीने वाले लोगों के मुकाबले ज्यादा तंदुरुस्त रहता है।  लेकिन अक्सर गर्म चाय पीना हमारी सेहत को भारी नुकसान पहुंच सकता है।  सिंगापुर में हुए रिसर्च में दावा किया गया है कि रोज चाय पीने वाले लोगों का दिमाग, चाय नहीं पीने वाले लोगों की तुलना में ज्यादा तेज काम करता है।  इसका खुलासा हालांकि पहले भी कई रिसर्च में हो चुका है।  कहा जाता है कि दिमाग के व्यवस्थित रहने का हर हिस्सा दिमाग की प्रतिक्रिया से जुड़ा हुआ है। 

पहले हुए रिसर्च में यह बात साबित हुई है कि चाय पीना सेहते कि लिए फायदेमंद है।  यह न केवल हमारे मूड/मिजाज में सुधार करता है, बल्कि दिल और नसों संबंधी बीमारी से भी बचाता है। ज्यादातर लोगों को चाय-कॉफी, गर्म पीने का शौक होता, लेकिन यह आपकी सेहत पर काफी नुकसान पहुंच सकता है।  स्टडी के जो रिजल्ट आए हैं, उनके मुताबिक गर्म चाय पीने वाले लोगों के साथ कैंसर की समस्या जल्दी उत्पन्न हो जाती है। 

ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित शोध में ये बताया गया है गर्म चाय या कॉफी पीने से इसोफेगल यानी खाने की नली का कैंसर होने का खतरा रहता है।  गर्म गर्म चाय गले के ऊतकों को काफी नुकसान पहुंचाती है।  नियमित रूप से 75 डिग्री सेल्सियस या इससे ज्यादा गर्म चाय पीने वालों में इसोफेगल कैंसर का कतरा दोगुना हो जाता है।  इसी के चलते चाय को बहुत गर्म पीने की बजाय थोड़ा ठंडा करके पीना सही माना गया है।