जूस पीने का सही समय सुबह का माना जाता है. रात को 7 से 8 घंटे की नींद लेने के बाद हमारे शरीर को ताकतवर चीजों की जरूरत होती है ताकि दिन भर की एनर्जी स्टोर कर सके. ऐसे में जूस शरीर के लिए ईंधन का काम करता है. इसके जरिए बॉडी को कई तरह के पोषक तत्व मिल जाते हैं.

अगर आप वर्कआउट करते हैं तो इसे हमेशा वर्कआउट करने के आधे घंटे बाद ​पीएं. इससे आपके शरीर को पोषक तत्व मिलने के साथ नेचुरल शुगर भी मिलती है, जो शरीर को इंस्टेंट एनर्जी देती है.

अगर आप वर्कआउट करते हैं तो इसे हमेशा वर्कआउट करने के आधे घंटे बाद ​पीएं. इससे आपके शरीर को पोषक तत्व मिलने के साथ नेचुरल शुगर भी मिलती है, जो शरीर को इंस्टेंट एनर्जी देती है.

कुछ लोग जूस निकालकर काफी देर के लिए रखा छोड़ देते हैं, जो कि पूरी तरह गलत है. 

स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो आपको जूस को निकालने के बाद 20 मिनट के अंदर इसे पी लेना चाहिए, तभी इसका पूरा लाभ मिल पाता है. देर तक रखने से इसके पोषक तत्व समाप्त हो जाते हैं.

कुछ लोग जूस निकालकर काफी देर के लिए रखा छोड़ देते हैं, जो कि पूरी तरह गलत है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो आपको जूस को निकालने के बाद 20 मिनट के अंदर इसे पी लेना चाहिए, तभी इसका पूरा लाभ मिल पाता है. देर तक रखने से इसके पोषक तत्व समाप्त हो जाते हैं.

मार्केट में मिलने वाले पैकेज्ड जूस का सेवन न करें क्योंकि इनमें फलों के स्थान पर अधिक मात्रा में प्रिजर्वेटिव्स, शुगर व फ्रूट फ्लेवर्स मिलाए जाते हैं, जो आपकी सेहत को नुकसान पहुंचाते हैं. इसके अलावा बाजार में दुकान पर निकाला जाने वाला जूस पीने से भी परहेज करें क्योंकि ये हाइजीनिक नहीं होता. हमेशा जूस घर पर निकालें. 

मार्केट में मिलने वाले पैकेज्ड जूस का सेवन न करें क्योंकि इनमें फलों के स्थान पर अधिक मात्रा में प्रिजर्वेटिव्स, शुगर व फ्रूट फ्लेवर्स मिलाए जाते हैं, जो आपकी सेहत को नुकसान पहुंचाते हैं. इसके अलावा बाजार में दुकान पर निकाला जाने वाला जूस पीने से भी परहेज करें क्योंकि ये हाइजीनिक नहीं होता. हमेशा जूस घर पर निकालें.