जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ जिले में स्वतंत्रता दिवस समारोह से एक दिन पहले शनिवार को सुरक्षा बलों ने एक शक्तिशाली विस्फोटक उपकरण (आईईडी) बरामद किया और उसे निष्क्रिय कर दिया। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने यहां बताया कि सुरक्षा बलों ने आज तड़के किश्तवाड़ जिले के कुरिया गांव के पास एक आईईडी बरामद किया और बाद में उसे नष्ट कर दिया। 

अधिकारी ने बताया कि आगामी स्वतंत्रता दिवस के कारण, किश्तवाड़ जिले में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गयी है और सेना तथा पुलिस के एक संयुक्त दल ने नियमित गश्त के दौरान तड़के कोरिया से शेरगवाड़ी जाने वाली सड़क के किनारे एक संदिग्ध दिखने वाला पैकेट बरामद किया। उन्होंने बताया कि पैकेट में एक नलीदार कंटेनर और उससे जुड़ी पेट्रोल की एक बोतल थी। गश्ती दल ने तुरंत इलाके की घेराबंदी कर दी और विस्फोटक पदार्थ की मौजूदगी की पुष्टि के लिए श्वान दस्ते को बुलाया गया। विस्फोटक मौजूद होने की पुष्टि के बाद उसे यथावत स्थान में निष्क्रिय कर दिया गया। 

सूत्रों ने बताया कि सड़क का उपयोग स्थानीय लोगों और सुरक्षा बलों द्वारा किया जाता है और गड़बड़ी फैलाने वाले तत्वों ने क्षेत्र में नुकसान और अशांति पैदा करने के मकसद से यह आईईडी लगाया था। यह भी पता चला है कि यह आईईडी डोडा जिले में पहले बरामद किये गये आईईडी जैसा ही शक्तिशाली है जिसे आमतौर पर चिपचिपा बम कहा जाता है। इस संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज की गयी है और सुरक्षा बल मामले की जांच कर रहे हैं ताकि अधिक विवरण का पता लगाया जा सके और अपराधियों की पहचान की जा सके।