ICICI Bank ने भारतीय सेना के साथ अपने MoU को रिन्यू किया है, ताकि सेवारत और सेवानिवृत्त सभी सैन्य कर्मियों को अपने डिफेंस सैलरी अकाउंट के माध्यम से विशेष रूप से क्यूरेटेड फायदे और अन्य अनेक नई सुविधाओं की पेशकश की जा सके।  एमओयू पर दिल्ली में लेफ्टिनेंट जनरल आर पी कलिता, यूवाईएसएम, एवीएसएम, एसएम, वीएसएम, महानिदेशक- जनशक्ति योजना और कार्मिक सेवा, भारतीय सेना और विशाल बत्रा, रीजनल बिजनेस हेड और हैड ऑफ डिफेंस इकोसिस्टम, आईसीआईसीआई बैंक ने हस्ताक्षर किए। 

एमओयू के हिस्से के रूप में, बैंक सैन्य कर्मियों को अनेक विशिष्ट लाभ प्रदान करेगा, जिनमें शामिल हैं- जीरो बैलेंस अकाउंट, प्राथमिकता के आधार पर लॉकर का आवंटन और देश में आईसीआईसीआई बैंक के साथ-साथ गैर-आईसीआईसीआई बैंक एटीएम पर असीमित मुफ्त लेनदेन की सुविधा।  नवीकृत लाभों के हिस्से के रूप में, बैंक सैन्य कर्मियों को कई प्रकार के बीमा लाभ प्रदान कर रहा है।  खाताधारकों को 50 लाख रुपये के बीमा के साथ व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा कवर मिलता है।  आतंकी कार्रवाई में मौत होने पर अतिरिक्त 10 लाख रुपये का इंश्योरेंस मिलता है, जो डिफेंस सैलरी अकाउंट ऑफर करने वाले सभी बैंकों में सबसे ज्यादा है।  आकस्मिक मृत्यु के मामले में बीमा कवर के हिस्से के रूप में बैंक बच्चों की शिक्षा के लिए 5 लाख रुपये की पेशकश कर रहा है और सेना के शहीद जवानों की बच्ची के लिए अतिरिक्त 5 लाख रुपये उपलब्ध कराएगा. ये लाभ सभी रैंक के कर्मियों के लिए उपलब्ध हैं। 

आईसीआईसीआई बैंक के रीजनल बिजनेस हेड और हेड ऑफ डिफेंस ईकोसिस्टम विशाल बत्रा ने कहा, हम भारतीय सेना के साथ समझौता ज्ञापन को नवीनीकृत करने और बैंकिंग सेवाओं और लाभों की एक पूरी रेंज प्रदान करने के लिए गर्व का अनुभव कर रहे हैं।  ये ऐसे फायदे हैं, जो खास तौर पर सैन्य कर्मियों की सुविधा के लिए क्यूरेट किए गए हैं। 

 बैंक की शाखाओं, एटीएम और डिजिटल बैंकिंग चैनलों के हमारे बड़े नेटवर्क के माध्यम से सेना के जवानों को दैनिक लेन-देन में आराम और सुविधा प्रदान करते हुए उनके लिए बैंकिंग तक आसान पहुंच को संभव बनाया गया है।  इसके अतिरिक्त, कर्मियों और उनके परिवारों को अधिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए, हम सैन्य कर्मियों के बच्चों की उच्च शिक्षा के लिए उन्नत बीमा कवर के साथ-साथ वित्तीय सहायता भी प्रदान कर रहे हैं।  हमें विश्वास है कि इस नए प्रस्ताव से सेवारत और सेवानिवृत्त सैन्य कर्मियों के एक बड़े वर्ग को लाभ होगा। 

रक्षा बलों के प्रति बैंक की प्रतिबद्धता (ICICI Bank's commitment to the Defense Force) के हिस्से के रूप में, ICICI BANK स्वचालित रूप से उन सैन्य कर्मियों को नवीनीकृत एमओयू के सभी लाभों का विस्तार करेगा जो डिफेंस सेलेरी अकाउंट के मौजूदा ग्राहक हैं।  मौजूदा खाताधारकों को नए एमओयू के लाभों को अपग्रेड करने के लिए किसी शाखा में जाने या कागजी कार्रवाई पूरी करने की कोई आवश्यकता नहीं होगी।  सैन्य इंजीनियरिंग सेवा (MES), सीमा सड़क संगठन (BRO) और अन्य रक्षा नागरिकों के नियमित कर्मचारियों के लिए बैंक द्वारा डिफेंस सेलेरी अकाउंट का लाभ भी दिया जाता है।