आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल (ICC T20 World Cup final) में रविवार को यहां दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड (Australia Vs New Zealand) खिताबी जंग के लिए तैयार हैं। जो भी टीम यह टूर्नामेंट जीतेगी उनके सिर पर पहली बार ताज सजेगा। क्योंकि 2007 के सीजन से अब तक कभी भी ये टीम ट्रॉफी नहीं जीत पाई है। अब तक इन दो टीमों ने टी20 विश्व कप (T20 World Cup) नहीं जीता है। हालांकि ऑस्ट्रेलिया 2010 में फाइनल तक का सफर तय किया था लेकिन विजेता नहीं बन पाई थी।

न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया  (Australia Vs New Zealand) ने सेमीफाइनल में शीर्ष क्रम की दो टीमों को इंग्लैंड और पाकिस्तान को हराकर फाइनल में अपनी जगह बनाई है। इन दोनों के बीच हुए मुकाबले को देखें तो ऑस्ट्रेलिया टी20 में न्यूजीलैंड से ज्यादा मैच जीता हुआ है। कंगारूओं ने आठ तो कीवियों ने पांच मुकाबले जीते हैं। भारत में 2016 के टी20 विश्व कप सीजन में न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया का आमना-सामना हुआ था। जिसमें कीवियों ने कंगारूओं को धूल चटाई थी। इस मैच के हीरो मिशेल मैक्लेघन थे। जिन्होंने शानदार गेंदबाज करते हुए तीन विकेट अपने नाम किए थे।

इससे पहले, दोनों टीमों की मुलाकात एकदिवसीय विश्व कप फाइनल में 2015 में हुई थी, जब दोनों पड़ोसियों ने टूर्नामेंट की सह-मेजबानी की थी। हालांकि ब्रेंडन मैकुलम (Brendon McCullum) की टीम माइकल क्लार्क (Michael Clarke) की टीम से मेलबर्न के मैदान पर हार गई थी। उस मैच में न्यूजीलैंड 183 रन पर ही सिमट गई थी, जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने खिताबी मुकाबले में सात विकेट से जीत दर्ज की थी और पांचवीं बार विश्व कप के खिताब पर कब्जा किया था। मैच में मिचेल जॉनसन और जेम्स फॉल्कनर (Mitchell Johnson and James Faulkner) ने तीन-तीन विकेट लिए, जबकि मिचेल स्टार्क ने दो विकेट चकटाए थे। रविवार को होने वाले फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरोन फिंच पर सबकी नजरें होंगी। क्योंकि फिंच ने न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 मैचों में सबसे ज्यादा 251 रन बनाए हैं। जिसमें कीवियों के खिलाफ सात पारियों में दो अद्र्धशतक भी शामिल हैं।

वहीं, ऑस्ट्रेलिया का हरफनमौला खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल (Glen Maxwell) ने नौ पारियों में 157.25 स्ट्राइक रेट से 206 रन और डेविड वार्नर (David Warner) ने 156.43 के स्ट्राइक रेट से सात पारियों में 158 रन बनाकर कीवी टीम के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया है। दूसरी तरफ, ब्लैक कैप्स के मार्टिन गुप्टिल ने ऑस्ट्रेलिया टीम को चुनौती दी है। उन्होंने 12 पारियों में 36.25 के औसत और 152.09 के स्ट्राइक रेट से 435 रन बनाए हैं। जिसमें एक शतक और दो अर्धशतक शामिल हैं। वहीं कीवी टीम को विकेटकीपर और मध्यक्रम के बल्लेबाज डेवोन कॉनवे की कमी खलेगी, जो चोट के कारण फाइनल से बाहर हो गए हैं। कॉनवे ने साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच मैचों में 48 की औसत से 192 रन बनाए, जिसमें एक मैच में नाबाद 99 का स्कोर भी शामिल था।

गेंदबाजों में एश्टन एगर ने कीवियों के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया है। वहीं दिलचस्प बात यह है कि मिचेल स्टार्क, पैट कमिंस और जोश हेजलवुड को अभी टी20 में ब्लैक कैप्स के खिलाफ खेलना है। न्यूजीलैंड के लिए ईश सोढ़ी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए मुकाबले में सबसे ज्यादा 16 विकेट हासिल की है। वहीं, ट्रेंट बोल्ट (trent bolt) ने उनके खिलाफ 10 विकेट, जबकि सेंटनर और टिम साउदी ने नौ-नौ विकेट लिए हैं। ऑल राउंडर जेम्स नीशम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ महंगे साबित हुए हैं उन्होंने सिर्फ दो विकेट ही झटके हैं।