पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ चल रहे सैन्य टकराव के बीच भारतीय वायु सेना ने बड़ा बयान दिया है। वायु सेना ने कहा है कि पूर्वी लद्दाख में उसकी लड़ाकू फॉर्मेशन की तैनाती बनी हुई है। अगर वहां हालात बिगड़ते हैं तो एयर फोर्स किसी भी शॉर्ट नोटिस पर एक्शन के लिए तैयार है।

वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी (Vivek Ram Chaudhari) ने कहा है कि पूर्वी लद्दाख के कुछ हिस्सों में डिसएंगेजमेंट हुआ है लेकिन पूरी तरह से सैन्य तैनाती कम नहीं की गई है। हालातो से निपटने के लिए आर्मी और एयर फोर्स ने LAC पर पर्याप्त सैन्य तैनाती कर रखी है। किसी हालात से निपटने के लिए वायु सेना पूरी तरह अलर्ट है।

दोनों दुश्मन की ओर से कोई दुस्साहस होता है तो एयर फोर्स शॉर्ट नोटिस पर एक्शन शुरू कर देगी। एयर चीफ मार्शल शनिवार को हैदराबाद में डुंडीगुल की एयर फोर्स एकेडमी में आयोजित कंबाइंड ग्रेजुएशन परेड़ को संबोधित कर रहे थे।

एयर चीफ (Air Chief Marshal) ने कहा कि फिलहाल पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) में दोनों देशों की ओर से पिछले साल अप्रैल के स्तर  वाली सैन्य तैनाती बरकरार है। अगर दुश्मन की ओर से इसमें कोई इजाफा किया जाता है तो इंडियन मिलिट्री भी इसका जवाब देगी। उन्होंने कहा कि वायु सेना इस बात से पूरी तरह अवगत है कि देश को केवल दुश्मनों से सामने से ही खतरा नहीं है बल्कि दूसरे तरीकों से भी हमारे देश को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की जा रही है। इन स्थितियों से निपटने के लिए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं।