अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से बदतर हुआ हालातों के मद्देनजर सभी देश अपने-अपने नागरिकों को वहां से निकालने में जुटे हुए हैं। इसी कड़ी में भारतीय वायु सेना के सी-17 विमान ने आज सुबह अफगानिस्तान के  काबुल एयरपोर्ट से 168 लोगों के साथ उड़ान भरी। यह आज गाजियाबाद में हिंडन IAF बेस पर उतरेगा। सरकारी सूत्रों के हवाले से ये खबर सामने आई है। गौरतलब है कि अफगानिस्तान में फंसे भारतीयों की सुरक्षित वापसी के लिए भारत को प्रतिदिन दो उड़ानें संचालित करने की अनुमति दे दी गई है।

सरकारी सूत्रों ने बताया कि काबुल हवाई अड्डे से दो भारतीय विमानों को संचालित करने की अनुमति दी जाएगी। 15 अगस्त को अफगानिस्‍तान पर कब्‍जा जमाने के बाद काबुल के हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के संचालन और नियंत्रण की जिम्‍मेदारी अमेरिकी और उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) बलों को दी गई है। उनके द्वारा कुल 25 उड़ानें संचालित की जा रही हैं, क्योंकि वे वर्तमान में अपने नागरिकों, हथियारों और उपकरणों को निकालने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

अब तक काबुल से लगभग 300 नागिरकों को वापस लाया जा चुका है। भारत इस समय ताजिकिस्तान और कतर के रास्ते से अपने नागिरकों को एयरलिफ्ट कर रहा है। बता दें कि भारत सी-130जे विमान से काबुल से भारतीयों को वापस ला रहा है। विमान रविवार को दिल्ली के निकट हिंडन वायुसैनिक अड्डे पर पहुंचेगा।