बेंगलुरु से दरभंगा जाने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेन के यात्रियों ने पानी और खाने की समुचित व्यवस्था नहीं मिलने पर नाराजगी जताते हुये शनिवार सुबह उन्नाव रेलवे स्टेशन पर पथराव किया जिसमें कांच की खिडकियां टूट गयीं।


जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने बताया कि श्रमिक ट्रेन बेंगलुरु से बिहार दरभंगा के लिये जा रही थी। उन्नाव में ट्रेन का ठहराव नहीं था लेकिन रूट क्लियर नहीं होने से यहां ट्रेन को रोका गया था। यात्रियों ने नाराजगी में पथराव किया है। यात्रियों का कहना था यात्रा के दौरान ट्रेन में न तो पानी मिल रहा है और न ही खाने की व्यवस्था ही है। यात्रियों को समझाबुझा कर ट्रेन को आगे को रवाना कर दिया गया है। साथ ही स्टेशन मास्टर को मानक के अनुरूप सभी प्लेटफार्म पर समुचित पानी की व्यवस्था के निर्देश दिये गए है।


जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक शहर में रोडवेज बस स्टॉप पहुंचे और वहां भी अधिकारियों को समुचित पानी की व्यवस्था परिसर में रखने के निर्देश दिए है।


रेलवे सूत्रों का कहना है कि लखनऊ से रूट क्लियर नहीं होने के कारण ट्रेन रुक रुक कर चल रही थी। यात्रियों के अजगैन और सोनिक स्टेशन पर भी पथराव करने की सूचना है। हालांकि आरपीएफ ने इस तरह की घटना से इंकार किया है। आरपीएफ के इंस्पेक्टर एसएन मिश्रा ने बताया कि उन्नाव स्टेशन की घटना का ज्यूरिडेक्शन स्टेशन मास्टर का है अगर वह प्राथमिकी दर्ज कराना चाहेंगे तो प्राथमिकी दर्ज की जायेगी।