बीटीसी हंग्रामा मोहिलारी के द्वारा बरपेटा जिले में 14 अप्रैल 2019 को एक रैली आयोजित की गई थी। इस रैली में एक अलग ही नजारा देखने को मिला जिसने स्थानीय लोगों को बोलने पर मजबूर कर दिया। इस रैली में सौ की संख्या में स्कूल यूनीफार्म में बच्चों ने कथित रूप से चुनावी रैली में भाग लिया। इस घटना से राज्य के लोगों की भौंहे और पारा दोनों ही चढ़ गया है।


ज्ञात हो कि मोहिलारी, बोड़ोलैंड पीपल्स फ्रंट की उम्मीदवार प्रमिला रानी ब्रह्म के लिए इस रैली को आयोजित कर रहे थे। जिसके बाद क्षेत्र के स्थानीय लोगों ने कहा कि वो बस हेलिकाॅप्टर के गवाह के तौर पर उस सभा में सम्मिलित होने गए थे।


वहीं, दूसरी ओर हैलाकांदी के जिला प्रशासन ने बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन से ऑक्सफोर्ड स्कूल के खिलाफ तत्कालीन कार्रवाई करने की मांग की है जिसमें उन्होंने पंचग्राम में अपने विद्यार्थी को स्कूली यूनिफार्म में राजनीतिक रैली में सम्मिलित किया।


12 अप्रैल, 2019 को सेबी के सचिव को लिखे गए खत में उपायुक्त सह जिला निर्वाचन अधिकारी, केर्थी जल्ली ने कहा कि स्कूल प्राधिकारियों ने 9 अप्रैल, 2019 को कांग्रेस के रैली मैदान में बड़ी संख्या में नाबालिग छात्रों को स्कूली घंटे में रैली में भेजा जो कि 1951 के आदर्श आचार संहिता और जनप्रतिनिधित्व कानून का साफ तौर पर उल्लंघन है।