असम सहित पूर्वोत्तर बिहार के लोगों को केन्द्र सरकार के रेल मंत्रालय ने तोहफे दिये हैं। जहां बिहार के लोग हमसफर एसी सुपरफास्ट का मजा ले सकेंगे। वहीं असम के लोग अब उदयपुर तक आसानी से जा सकेंगे। बिहार के लोगों को मुंबई, अजमेर और उदयपुर जाने के लिए कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ेगा। मुंबई जाने के लिए हमसफर सहरसा से चलेगी जबकि, कवि गुरु एक्सप्रेस अब कामाख्या से चलकर उदयपुर तक जा रही है।


ट्रेनों का परिचालन भी शुरू हो गया है। पटना से मुंबई के बीच चलने वाली पटना-बांद्रा- पटना 22913/22914 हमसफर एक्सप्रेस सिमरिया पुल होकर सहरसा तक जाएगी। एक्सटेंशन में पटना से सहरसा के बीच बेगूसराय एवं खगड़िया में इसका ठहराव दिया गया है। बांद्रा-पटना हमसफर एक्सप्रेस रविवार को मुंबई से चलती है तथा सोमवार की रात पटना पहुंचकर खड़ी रहती है। वापसी में यह मंगलवार की रात बांद्रा के लिए खुलती है।


इसके मद्देनजर यात्रियों की बढ़ती मांग को देखते हुए इसे सहरसा तक विस्तारित किया गया है। वहीं, दूसरी ओर 19709/19710 कामाख्या-जयपुर कविगुरु एक्सप्रेस अब उदयपुर तक जाएगी. एक्सटेंशन में अजमेर, भीलवाड़ा, चांदेरिया,मालवी एवं राणाप्रताप नगर में इसका ठहराव दिया गया है। कामाख्या-जयपुर कवि गुरु एक्सप्रेस शनिवार की शाम जयपुर पहुंच जाती है और सोमवार को कामाख्या के लिए खुलती है। इसे देखकर उसे उदयपुर तक विस्तारित कर दिया गया है।


उदयपुर तक विस्तारित कर दिए जाने के बाद बेगूसराय के लोगों को अब अजमेर शरीफ जाने में सहूलियत होगी। बता दें कि रेल मंत्री पीयूष गोयल द्वारा यात्री सुविधा के मद्देनजर प्रमुख शहरों में कनेक्टिविटी के लिए 22 ट्रेनों को प्रायोगिक तौर पर आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया है जिसमें बांद्रा-पटना हमसफर एसी सुपरफास्ट को सहरसा तक तथा कामाख्या-जयपुर कविगुरु एक्सप्रेस को उदयपुर तक विस्तारित करने की घोषणा की गयी है।