चाहे ब्रेकफास्ट, लंच हो या डीनर। खाने का प्रभाव सीधे हमारे शरीर पर पड़ता है। जैसा अन्न खाते हैं, वैसा ही शरीर हो जाता है। आप अगर सुबह कम फैट वाला खाना खाते हैं, तो आपका वेट कंट्रोल रहता है। वहीं इस दौरान फैट से भरा खाना खाते हैं तो वेट बढऩा लाजमी है। वैसे भी सुबह का ब्रकफास्ट सबसे इंपॉर्टेंट मील होता है। सुबह के वक्त आपको ऐसी चीजें नहीं खाना चाहिए, जिसमें अधिक फैट होता है। इससे बॉडी फैट बढऩे के साथ पाचन सिस्टम भी कमजोर होता है।

पकौड़े-कचौड़ी खाने से बचे

अक्सर लोगों को सुबह-सुबह तली चीजें खाते हुए देखा होगा। जबकि यह आदत बिल्कुल भी सही नहीं है। पकौड़े और कचौड़ी जैसी तली हुई चीजें सुबह खाने से सेहत पर विपरीत असर पड़ता है।

चिप्स या नमकीन डीप फ्राई

चिप्स या नमकीन डीप फ्राई होती हैं। ऐसे में जब भी आप इन्हें खाते हैं, तो न सिर्फ बॉडी फैट बढ़ता है, बल्कि इससे डाइजेशन भी कमजोर होता जाता है। भूलकर भी चाय के साथ इन्हें नहीं खानी चाहिए।

मैदा से बनते केक, कुकीज

मेदा से बनी चीजें शरीर के लिए खराब साबित होती है। केक और कुकीज में मैदे के अलावा घी और क्रीम का इस्तेमाल होता है, जो आपकी फिटनेस के हिसाब से बिल्कुल भी सही नहीं है। आपको नाश्ते में इन चीजों से परहेज करना चाहिए।

नूडल्स होते हैं हैवी

नूडल्स खाने में तो बहुत अच्छे लगते हैं लेकिन इसे हेल्दी ब्रेकफॉस्ट नहीं माना जा सकता है। नूडल्स खाने की बजाय अंकुरित चीजें खाना सही माना जाता है।

बाजार का फ्रूट जूस

बाजार में उपलब्ध फ्रूट जूस पुराना भी हो सकता है। अगर आपको जूस पीना है तो बाजार का बिल्कुल न पिएं, बल्कि आप घर में ही फलों का जूस निकालकर पी सकते हैं। नाश्ते में जूस की जगह फल खाने से सेहत अच्छी रहती है।