बेईमान शब्द का अर्थ बताते हुए असम प्रदेश भाजपा ने कांग्रेस पार्टी से पूछा है कि गली-गली में शोर है और देश का चौकीदार चोर है कह कर देश के प्रधानमंत्री को अपमानित करना कितना उचित है। पार्टी प्रवक्ता रुपम गोस्वामी तथा विजन महाजन ने शुक्रवार को कांग्रेस के प्रदर्शन को हास्यस्पद बताते हुए कहा कि बेईमान असंसदीय शब्द नहीं लेकिन वोट के लिए झूठे आरोप गढ़ कर प्रधानमंत्री को चोर कहना असंसदीय और अमर्यादित है।

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रंजीत कुमार दास के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस द्वारा शुक्रवार को किए गए प्रदर्शन और पुतला दहन के कार्यक्रम को हास्यस्पद बताते हुए कांग्रेस पर कई टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास सत्ताधारी दल के खिलाफ कोई मुद्दा बचा नहीं है। तथ्यहीन बातें करना कांग्रेेस का एकमात्र सहारा है।

अगर उन्हें जनता के बीच जाना है और प्रदर्शन ही करना है तो कांग्रेस के शासनकाल में बिजली के खंभे की जगह बांस लगाने, समाज कल्याण विभाग में फर्जी नाम देकर सरकारी धनों को लूटने, मनरेगा और अन्य तमाम घोटालों को लेकर जनता के बीच जाए और उनसे माफी मांगे। क्योंकि पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई ने स्वंय स्वीकार किया है कि उनके शासनकाल में भ्रष्टाचार हुआ और भ्रष्टाचार करने वाली सरकार को बेईमान कहना अन्याय नहीं।