आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस ने कई क्षेत्रों को उन्नति के शिखर पर पहुंचा दिया है। अब सूचना मंत्रालय भी एआई की तरफ रुख कर रहा है। मिनिस्ट्री ऑफ़ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के अंतर्गत आने वाले नेशनल ई गवर्नेंस डिविजन ने एजुकेशन सेक्टर के लिए गुजरात में एक एआई प्रोजेक्ट का उदाहरण पेश करते हुए, इसे शिक्षा जगत की एक नई उपलब्धि बताया है। 

यह भी पढ़े : बाबर आजम ने तोड़ दिया विराट कोहली का ये रिकॉर्ड , ऐसा करने वाले बने दुनिया के पहले बल्लेबाज बने 


इसकी जानकारी देश के पहले माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफार्म कू ऐप पर मंत्रालय के आधिकारिक अकाउंट से एक ऑडियो शेयर किया गया है, जिसमें ई-गवर्नेंस डिविजन के सीईओ अभिषेक सिंह ने इस नई टेक्नोलॉजी के बारे में विस्तार से बता रहे हैं। पोस्ट में लिखा गया हैः

यह भी पढ़े :घर में चल रहा था श्राद्ध समारोह तभी जिंदा  वापस लौटा मृत आदमी, जानिए पूरा मामला 


"एप्लीकेशन ऑफ़ एआई इन एजुकेशन, सुनिए @abhish18, P&CEO, @NeGD_GoI, #Gujarat में लागू #AI प्रोजेक्ट का एक दिलचस्प उदाहरण शेयर करते हुए। यह एक विषय के भीतर विशिष्ट विषयों में छात्रों की समझ का विश्लेषण करने में मदद करता है।"

बता दें कि वरिष्ठ आईएएस अधिकारी और डिजिटल इंडिया कॉर्पोरेशन के सीईओ अभिषेक सिंह ने राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस डिविजन (एनईजीडी) के सीईओ के रूप में पदभार संभाला है। नागालैंड कैडर के 1995 बैच के आईएएस अधिकारी, वर्तमान में अतिरिक्त सचिव के पद पर कार्यरत हैं। NeGD, NeGP के कार्यक्रम प्रबंधन के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा मीडिया लैब एशिया के भीतर स्थापित एक स्वतंत्र व्यावसायिक हिस्सा है।