जाजपुर. ओडिशा के जाजपुर में कोरई रेलवे स्टेशन पर आज सोमवार की सुबह एक भीषण रेल हादसे में तीन लोगों की कुचलकर मौत हो गई, जबकि कई अन्य घायल हो गए. जानकारी के अनुसार जाजपुर के कोरई स्टेशन पर आज सुबह-सुबह एक तेज रफ्तार मालगाड़ी पटरी से उतर गई. मालगाड़ी के डिब्बे प्लेटफार्म पर बने वेटिंग हाल और टिकट काउंटर तक पहुंच गए. इस दौरान 3 यात्री इसकी चपेट में आ गए और मौके पर ही उनकी कुचलकर मौत हो गई, जबकि कई अन्य बुरी तरह घायल हो गए.

Weekly Horoscope 20-26 November : इन राशि वालों की पदोन्नति के योग , जानिए किसकी चमकेगी किस्मत


वहीं इस हादसे के बाद से दो रेल लाइनें अवरुद्ध हो गईं. स्टेशन भवन भी क्षतिग्रस्त हो गया है. राहत दल, रेलवे अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे हैं. रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. मालगाड़ी के डिब्बों के नीचे कुछ और लोगों के दबे होने की आशंका है. पूर्वोत्तर रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी ने हादसे को दुखद बताते हुए कहा कि किस वजह से यह दुर्घटना हुई है, यह जानने के लिए जांच के निर्देश दिए गए हैं. हादसे के बाद अप और डाउन दोनों सेवा को बंद कर दिया गया है. जानकारी के अनुसार आज सुबह 6:40 बजे यह हादसा हुआ.

Real Jaggery: बाजार में धड़ल्ले से बिक रहा है नकली गुड़, ऐसे करें असली-नकली  की पहचान


जाजपुर के पुलिस अधीक्षक राहुल पीआर ने कहा कि बड़ी संख्या में यात्री कोरेई स्टेशन पर बलौर-भुवनेश्वर डीएमयू में सवार होने का इंतजार कर रहे थे, तभी वहां से गुजर रही एक तेज रफ्तार मालगाड़ी अचानक पटरी से उतर गई और उसके कई डिब्बे प्लेटफॉर्म पर चढ़ गए, जिससे ट्रेन का इंतजार कर रहे लोग बुरी तरह से कुचल गए. उन्होंने कहा कि दुर्घटना में कम से कम 2 लोगों की मौत हो गई और एक बच्चे सहित 2 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए. हमें आशंका है कि बोगियों के नीचे कई अन्य लोग फंसे हो सकते हैं. एक बड़ा बचाव अभियान शुरू हो गया है.

Love Horoscope 21 नवंबर : इन राशि वालों की प्रेमी से दूरियां कम होंगी, रोमांटिक लाइफ में रोमांच बढ़ेगा


वहीं हादसा स्थल पर मौजूद रेलवे के अधिकारियों ने कहा कि स्टेशनों से गुजरते वक्त मालगाडिय़ों की रफ्तार धीमी होनी चाहिए, लेकिन बेपटरी हुई मालगाड़ी की गति तेज थी. एक अधिकारी ने कहा कि दुर्घटना इतनी भीषण थी कि कुछ मालगाड़ी के कुछ वैगन स्टेशन के फुटओवर ब्रिज पर भी चढ़ गए, जिससे वह बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया. स्टेशन भवन का एक हिस्सा भी क्षतिग्रस्त हो गया है. मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने घटना में लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया है. ईसीओआर ने एक मेडिकल टीम को घटनास्थल पर भेजा है.