पालनपुर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुजरात के बनासकांठा जिले के नडाबेट में बीएसएफ के गौरवशाली इतिहास का साक्षी बनने जा रहे नवनिर्मित सीमा दर्शन प्रोजेक्ट का रविवार को उद्घाटन किया। शाह ने इस मौके पर कहा कि हर बार जब-जब देश में आपदा आई तब बीएसएफ ने वीरता दिखाने में कोई कमी नहीं छोड़ी। 

यह भी पढ़े :Ram Navami Wishes : देशभर में राम नवमी की धूम , राम नवमी के पावन मौके पर शेयर करें ये खूबसूरत संदेश 

उन्होंने कहा कि मैं बीएसएफ जवानों से कहना चाहता हूं कि आप लोगों की वजह से देश सीमाओं के भीतर सुरक्षित है इसलिए प्रगति कर रहा है, और दुनिया के सामने अपने कद में तेजी से बढ़ रहा है। आप अपने घर से हजारों किलोमीटर दूर हैं और देश की रक्षा करने के लिए तपते हुए रेगिस्तान में खड़े रहते हैं। यहां आकर बच्चों के मन में भी देशभक्ति की भावना जगती है। पर्यटन को भी बढ़ावा देने के लिए यहां कदम उठाए जा रहे हैं। 

उल्लेखनीय है कि नडाबेट सीमा दर्शन प्रोजेक्ट देश में बीएसएफ का पहला अत्याधुनिक प्रोजेक्ट है। जो बीएसएफ के उदभव , विकास, युद्धों, में इसकी भूमिका, उपलब्धियां और बल के शहीदों की गौरवगाथाओं का सचित्र दर्शन कराएगा। शाह ने कहा कि यह सीमा दर्शन प्रोजेक्ट बीएसएफ जवानों की वीरता को देखते हुए वाघा बार्डर पैटर्न के आधार पर शुरू हुआ है। 

यह भी पढ़े :राशिफल अप्रैल 10  : आज बना ग्रहों का शुभ संयोग, इन राशि वालों को महालाभ के योग, पढ़ें संपूर्ण राशिफल 

भारत के सैलानी यहां पर जवानों के साहस और देशभक्ति को देखने आएंगे। नडाबेट सीमा दर्शन प्रोजेक्ट गुजरात को विश्व पर्यटन मानचित्र में एक विशिष्ट पहचान दिलाएगा। सीमा दर्शन कार्यक्रम पर्यटकों को नडाबेट जीरो प्वॉइंट पर हमारे देश की सीमाओं की रक्षा में तैनात बीएसएफ के रोमांचक काम को प्रत्यक्ष रूप में देखने का अवसर भी देगा।