इस साल होली 18 मार्च दिन शुक्रवार की है. रंगों का त्योहार कही जाने वाली होली (Holi 2022) रंगों के बिना अधूरी है. लेकिन लोग मार्केट में मौजूद रंगों का इस्तेमाल करने से घबराते हैं क्योंकि उनमें केमिकल्स का इस्तेमाल होता है. 

यह भी पढ़े : 141 दिन शनिदेव रहेंगे वक्री , इन 3 राशियों के लोग बरतें विशेष सावधानी


यदि आप भी उन लोगों में से एक है तो आप घर पर रहकर प्राकृतिक तरीके से होली के रंग बना सकते हैं और उनसे होली खेल सकते हैं. आज का हमारा लेख उन्हीं रंगों पर है. आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि आप घर पर रहकर किस प्रकार से प्राकृतिक रंग बना सकते हैं. 

घर पर बनाएं प्राकृतिक रंग

घर पर प्राकृतिक रूप से पीला रंग बनाने के लिए आप हल्दी का प्रयोग करें. ऐसे में आप हल्दी के साथ गेंदे के फूल को पीस लें और उसमें पानी मिलाकर एक मिश्रण तैयार करें. अब इसके प्रयोग से आप होली पर एक दूसरे को रंग लगा सकते हैं. इसके अलावा आप बेसन और हल्दी दोनों का इस्तेमाल कर सकते हैं. ऐसे में आपको एक कटोरी बेसन और आधी कटोरी हल्दी को मिलाएं और बने पीले गुलाब का इस्तेमाल करें.

यह भी पढ़े : राशिफल 14 मार्च: ग्रहों की स्थिति इन 3 राशि वालों के लिए अनुकूल नहीं , जानिए सभी 12 राशियों का हाल


प्राकृतिक रूप से लाल रंग बनाने के लिए आप गुलाब की पंखुड़ी और चंदन को पीसकर गुलाल बना सकते हैं. इससे अलग यदि आप लिक्विड मिश्रण बनाना चाहते हैं तो चुकंदर के साथ अनार, गाजर और टमाटर को अच्छे से पीसले और बने मिश्रण से होली खेलें.

नारंगी रंग का गुलाल बनाने के लिए आपके पास चंदन का पाउडर और फ्लाश के फूल होने जरूरी हैं. दोनों को समान मात्रा में पीसकर आप गुलाल बना सकते हैं. वहीं लिक्विड मिश्रण बनाने के लिए आप फ्लाश के फूल को पानी में पीसकर इस्तेमाल कर सकते हैं.

यदि आप नीले रंग बनाना चाहती हैं तो ऐसे में आप गुड़हल के फूल को पानी में पीसकर बने मिश्रण का इस्तेमाल कर सकते हैं. वहीं गुलाल बनाने के लिए आप गुड़हल के फूल को सुखाएं और उसे पीसकर गुलाल के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं.