गाजियाबाद के एक व्यक्ति ने आरोप लगाया है कि यूपी पुलिस के एक वरिष्ठ आईपीएस अफसर उसकी बेटी को परेशान कर रहे हैं. उनका कहना है कि अफसर देर रात उसकी बेटी को कॉल करते हैं. 

उन्होंने इसकी शिकायत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से ट्विटर के जरिए की है. मामला सामने आने के बाद डीजीपी मुकुल गोयल ने मामले की जांच एडीजी पीएसी अजय आनंद को सौंपी हैं. शिकायत ने यूपी पुलिस में खलबली मचा दी है. एक बार फिर मामला आईपीएस अफसर से जुड़ा है.

शिकायतकर्ता का आरोप है कि पीएसी में आईजी के पद पर तैनात एक वरिष्ठ आईपीएस अफसर उसकी बेटी को रात में फोन करके परेशान करते है. पीड़ित पिता ने देश के गृह मंत्री अमित शाह, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व डीजीपी मुकुल गोयल के अलावा आईएएस एसोसिएशन और आईपीएस एसोसिएशन के ट्विटर हैंडल को टैग करके यह ट्वीट किया गया है. ट्वीट में अफसर के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया है.

इसमें अफसर का नाम, पद, यूपी कैडर के आईपीएस अफसर के रूप में आवंटित बैच का पूरा ब्योरा भी दिया गया है. साथ ही अफसर को भ्रष्ट और प्रदेश पुलिस का काला धब्बा बताया गया है. इस ट्वीट को लेकर विभाग में जबरदस्त चर्चा है. 

यह ट्वीट ऐसे समय में सामने आया है जब डीजीपी पुलिसकर्मियों को सभ्यता व शालीनता का पाठ पढ़ाने की कोशिश में हैं. उन्होंने सभी जिलों में इसके लिए कार्यशाला आयोजित करने का निर्देश दिया है.