हिमाचल प्रदेश में गत कुछ दिनों से लगातार बारिश होने के चलते नदी, नाले और खड्डें उफान पर हैं जिसे लेकर राज्य सरकार ने अलर्ट जारी किया है। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि प्रदेश में ब्यास, सतलुज, रावि सहित सभी नदियों में जलस्तर बढ़ गया हैं। कुल्लू, हमीरपुर और मंडी जिला प्रशासन जिसे लेकर पूरी तरह से एहतियात बरत रहा है और नदी, नालों और खड्डों में न जाने की लोगों को हिदायत दी है। जिसके चलते प्रशासन ने लोगों को जागरूक करने के लिए नदी के किनारे चेतावनी बोर्ड लगा कर रखें हैं। फिर भी कुछ नदी, नालों और खड्डों में नहाने के लिये उतर जाते हैं।

उल्लेखनीय जिला हमीरपुर के सुजानपुर और नादौन से ब्यास नदी बहती है। आज कल बरसात के चलते नदी में पानी का बहाव बहुत तेज है। स्थानीय निवासी का कहना है कि प्रशासन ने नदी के मुहानों पर चेतावनी बोर्ड तो लगा दिये हैं और लोगों को प्रशासन द्वारा दिए जा रहे दिशा निर्देशों का पालन करना चाहिए। वहीं, अक्सर देखा गया है कि कुछ लोग प्रशासन की चेतावनी को देखकर अनदेखा कर देते हैं और नदी में उतर जाते हैं और पानी के बहाव में बह जाते हैं। यहां पर इस तरह कई लोग अपनी जान गवा चुके हैं। 

स्थानीय निवासियों ने जिला प्रशासन से गुहार लगाते हुए कहा कि जब प्रवासी परिंदे बाहरी राज्यों या विदेशों से यहां पर सर्दियों में पहुंचते हैं तो प्रशासन की तरफ से पुलिस नदी की गश्त करती है। ताकि इन परिंदों का शिकार ना कर सके कोई, उसी तर्ज पर बरसात के दिनों में पुलिस को नदी के मुहानों पर अपनी गश्त करनी चाहिए ताकि कोई भी व्यक्ति नदी में न उतर सके। उधर, एसडीएम सुजानपुर शिल्पा बेक्टा की माने तो इस सन्दर्भ सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए है कि चेतावनी बोर्ड लगाएं जाएं, हालांकि प्रशासन ने ब्लैक स्पॉट पर ये बोर्ड स्थापित भी कर दिए हैं। लोगों की मांग उचित ठहराते हुए एसडीएम ने जल्द ही नदी के मुहानों पर पुलिस गश्त लगाने की बात कही।