दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी से लगे इलाकों में भीषण गर्मी का दौर जारी है और यहां शुक्रवार को कुछ जगहों पर अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाने का अनुमान है। मौसम विभाग ने बढ़ती गर्मी को देखते हुए दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में लू से संबंधित चेतावनी को येलो की जगह ऑरेंज कर दिया है। 

ये भी पढ़ेंः चीन में पढाई करने वाले भारतीय छात्रों को मिली राहत, पढ़ाई के लिए वापस चीन जाने की मिली मंजूरी


राजधानी में शुक्रवार को दोपहर से पहले ही लू का असर शुरू हो गया था और तापमान 43 डिग्री सेल्सियस तक चला गया था, यहां दोपहर बाद भी लू का प्रकोप जारी था। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आद्र्रता 28 प्रतिशत रिकॉर्ड की गयी। निजी मौसम कंपनी स्काईमेट ने बताया कि दोपहर 12 बजे के आसपास सापेक्षिक आद्र्रता गिरकर 13 प्रतिशत रह गयी थी। मौसम विभाग का कहना है कि तेज हवाओं के बावजूद गर्मी का प्रकोप अभी रहेगा और रविवार तक कुछ राहत मिल सकती है। 

ये भी पढ़ेंः BSF की चील जैसी आंखों से नहीं बच पाया पाकिस्तान, दे दिया ऐसा बड़ा झटका


अनुमान है कि सोमवार को तापमान फिर बढ़ सकता है। मौसम विभाग की ऑरेंज चेतावनी इस बात का संकेत है कि दिल्ली-एनसीआर में दिन में तेज गर्म हवायें चलेंगी। विभाग ने धूप से बचने और लंबे समय तक खुले में न रहने की सलाह दी है। मौसम विभाग ने शाम को या रात में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवायें चलने का अनुमान जताया है। शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 25.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से दो डिग्री अधिक था। शाम को तेज हवा चलने पर कुछ राहत मिलने के आसार हैं। स्काईमेट डाटा के अनुसार इस सप्ताहांत न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है, इससे लोगों की तकलीफें और बढ़ सकती हैं। 

स्काईमेट के अनुसार पांच और छह मई को तापमान कुछ कम होने के आसार हैं लेकिन आठ मई को न्यूनतम तापमान के बढऩे से और गर्मी से जुड़ी दुश्वारियां बढ़ सकती हैं। उस दिन न्यूनतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है। राजधानी में गुरुवार को अधिकतम तापमान 43.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। गौरतलब है कि मैदानी क्षेत्रों में लू तब घोषित की जाती है जब अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक हो जाता है और तापमान सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया जाता है। 

गौरतलब है कि उत्तर-पश्चिम के कुछ इलाके, मध्य और पूर्वी भारत 27 अप्रैल से ही लू की चपेट में है। दिल्ली के अलावा राजस्थान के कुछ भागों, महाराष्ट्र, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, झारखंड और ओडिशा में लगातार लू का प्रकोप जारी है। मौसम विभाग के अनुसार उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत में अगले पांच दिनों तक लू का प्रकोप जारी रहने का अनुमान है। इसके अलावा पूर्वी भारत के राज्यों में अगले दो दिनों तक ऐसी ही स्थिति बने रहने का आसार है। विभाग ने उत्तर-पश्चिम भारत में अगले 24 घंटे में और शनिवार को अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस अधिक रहने का अनुमान जताया है। शनिवार को पश्चिमी विक्षोभ का असर उत्तर-पश्चिम भारत में देखने को मिल सकता है, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में शनिवार को धूल भरी आंधी चलने के आसार हैं।