स्वास्थ्य अधिकारियों की सलाह है कोरेाना वायरस का टीका लगने के 3 दिन बाद तक सेक्स नहीं करें। हाल में रूस के स्वास्थ्य अधिकारियों ने लोगों को सलाह दी है कि वे कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद कम से कम तीन दिन तक सेक्स से दूर रहें। सेराटोव क्षेत्र के उप स्वास्थ्य मंत्री डॉ डेनिस ग्रेफर ने कहा कि लोगों के टीके के बाद कुछ समय सेक्स से बचना चाहिए क्योंकि सेक्स करने के बाद शारीरिक तनाव बढ़ जाता है जो इस समय ठीक नहीं।

ग्रेफर ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि मेरा मानना है और हर कोई भी यह जानता है कि सेक्स एक बहुत ज्यादा ऊर्जा की खपत करने वाली गतिविधि है। इसलिए हम उन लोगों को चेतावनी देते हैं जो टीकाकरण के बाद अनुशंसित नहीं है। जिन्होंने हाल में ही वैक्सीन लगवाई है उन लोगों को सैक्स करने सहित सभी तरह की शारीरिक गतिविधियों से कम से कम तीन दिन बचना चाहिए

हालांकि, उनके इस दावे की एक वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी ने आलोचना की है। ग्रेफर के बॉस ओलेग कोस्टिन ने वैक्सीनेशन के बाद सेक्स का जिक्र करते हुए कहा कि आप इसे कर सकते हैं, बस इसे सावधानी से करें। उन्होंने यह भी कहा कि रूसियों को सामान्य समझ होनी चाहिए और इसे ज्यादा नहीं करना चाहिए। बता दें कि रूस में इससे पहले भी लोगों को वैक्सीनेशन के तुरंत बाद वोदका पीने, ध्रूमपान करने और सौना स्टीम बाद लेने से बचने को कहा गया था।

कोरोना वायरस की दो वैक्सीन बनाने के बाद भी रूस दुनिया में सबसे कम टीकाकरण करने वाले देशों में से एक है। यहां केवल 13 फीसदी लोगों को ही कोरोना वायरस वैक्सीन की दोनों डोज दी गई है। जबकि, बाकी के यूरोपीय देशों में यह आंकड़ा औसतन 30 फीसदी के ऊपर है।वैक्सीनेशन की धीमी रफ्तार के लिए रूस को आलोचना का सामना भी करना पड़ रहा है।

गौरतलब है कि रूस अपने नागरिकों को स्पुतनिक-V वैक्सीन की डोज दे रहा है। यह वैक्सीन भी एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन की तरह ही दो खुराक वाली है। यूं तो अलग-अलग देशों में किए गए सर्वे में यह वैक्सीन कोरोना वायरस के खिलाफ कारगर पाई गई है लेकिन रूस की स्पुतनिक वी वैक्सीन को अभी तक WHO से मंजूरी मिलने का इंतजार है। स्पूतनिक-V को भारत समेत दुनिया के 67 देशों ने अपनी मंजूरी दी हुई है।