प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर 17 सितंबर को रक्तदान अमृत महोत्सव का शुभारंभ हो रहा है. इस दिन देशभर में एक लाख यूनित ब्लड जमा करने की योजना है और जिस तरह कोरोना वैक्सीनेशन का डेटा रियल टाइम दिखता है, उसी तरह 17 सितंबर को ब्लड डोनेशन का डाटा लाइव अपडेट किया जाएगा.

यह भी पढ़े : अब कार की खिड़कियों पर ब्लैक फिल्म और नेट का प्रयोग प्रतिबंधित, दोनों पर लगेगा जुर्माना

आरोग्य सेतु पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन शुरू

रक्तदान अमृत महोत्सव के तहत आरोग्य सेतु पोर्टल पर स्वैच्छिक रक्तदान पंजीयन शुरू हो गया है. इसमें लोगों से रक्तदान करने और मानवता की खातिर प्रधानमंत्री के मिशन का हिस्सा बनने का आह्वान किया गया है

कौन कर सकता है ब्लड डोनेट

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को इस अभियान को लेकर एक पत्र भेजा गया है और कहा गया है कि यह अभियान राष्ट्रीय स्वैच्छिक रक्तदान दिवस यानी एक अक्टूबर तक जारी रहेगा. कोई भी स्वस्थ्य व्यक्ति, जिसकी उम्र 18 साल से ज्यादा हो, इस अभियान में शामिल होकर स्वैच्छा से ब्लड डोनेट कर सकता है.

ई-रक्तकोष पोर्टल पर बनेगा ब्लड का डेटाबेस

केन्द्र सरकार द्वारा संचालित ई-रक्तकोष पोर्टल पर ब्लड बैंकों को रजिस्टर्ड कर उनका डेटा अपडेट करने के निर्देश दिए गए हैं. सभी सरकारी और प्राइवेट ब्लड बैंक में उपलब्ध ब्लड ग्रुप के अनुसार स्टॉक ई-रक्त कोष पोर्टल पर दिखेगा और आम लोग भी इस पोर्टल पर स्टॉक चेक कर सकेंगे. इस पोर्टल का लिंक आरोग्य सेतु ऐप पर भी मौजूद है.

ब्लड के लिए जमा किया जाएगा डेटा

अगर किसी ब्लड बैंक में क्षमता से ज्यादा लोग आ जाते हैं और जो लोग ब्लड नहीं दे पाते हैं, उन्हें भी पार्टिसिपेशन सर्टिफिकेट मिलेगा. ऐसे लोगों का ब्लड सैंपल लेकर उनका डाटा जमा कर लिया जाएगा और जरुरत पड़ने पर उन्हें ब्लड डोनेशन के लिए कॉल की जाएगी.

यह भी पढ़े : Numerology Horoscope 14 September : आज का दिन इन तारीखों में जन्मे लोगों के लिए रहेगा भाग्यशाली

हर 2 सेकेंड में होती है 1 व्यक्ति को ब्लड की जरूरत

बता दें कि 350 मिली खून से 3 लोगों की जान बचाई जा सकती है और देश में हर 2 सेकेंड में एक व्यक्ति को ब्लड की जरूरत होती है. कोरोना काल में 1 करोड़ 46 लाख यूनिट ब्लड की जरूरत पड़ी थी, लेकिन 1 करोड़ 25 लाख यूनिट ब्लड ही उपलब्ध थी. देश में सरकारी और प्राइवेट मिलाकर करीब 3900 ब्लेड बैंक हैं, लेकिन इन बैंकों में खून की कमी रहती है. इसलिए देश के सभी ब्लड बैंकों को इस पोर्टल से जुड़ने के लिए कहा जा रहा है.

कितने दिन स्टोर किया जा सकता है ब्लड 

ब्लड- 42 दिन

प्लाज्मा- 1 वर्ष

रेड ब्लड सेल- तीन हफ्ते

प्लेटलेट्स - 5 से 7 दिन