प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान के तहत अब कई मंत्री और लोग आगे आ कर आम लोगो से भारत को अपने राज्य को साफ़ रखने की अपील कर रहे हैं इसी के मद्देनजर भारत के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन अपने दो दिवसीय अरुणाचल प्रदेश के दौरे के तहत मंगलवार की सुबह छह बजे राजधानी अरुणाचल प्रदेश के इटानगर में रामकृष्ण मिशन अस्पाताल के कैंपस में पहुंचकर स्वच्छ भारत अभियान में हिस्सा लिया। 

इस मौके पर उन्होंने अस्पताल परिसर में झाड़ू लगाकर सफाई की। सफाई अभियान के दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में आगामी 2022 तक भारत को स्वच्छ, स्वस्थ और एक शक्तिशालि राष्ट्र बनाने का संकल्प लिया गया है। जिसके लिए पूरे भारत में स्वच्छता के उपर अभियान चलाया जा रहा है। क्योंकि जब तक देश स्वच्छ नहीं होगा तब तक देश के लोग स्वस्थ नहीं हो सकते। क्योंकि ज्यादतर बीमारी गंदगी से फैलती है, खासकर देश की गरीब लोगों में। 

वहीं केंद्र सरकार के निर्णय के साथ खड़े होने और लोगों को स्वच्छता के विषय में जागरुक होने की अपील की। डॉ. हर्षवर्धन ने सभी से भारत को एक स्वच्छ देश बनाने का संकल्प लेने और अपने-अपने क्षेत्र को साफ रखने की अपील की। साथ ही देश को शक्तिशालि बनाने में अपना योदान देने का आह्वान किया।

ज्ञात हो कि बीते सोमवार की शाम पांच बजे राजधानी इटानगर के बैंक्येट हॉल में आयोजित नया भारत मंथन, संकल्प से सिद्धि के कार्यक्रम में शामिल होते हुए डॉ. हर्षवर्धन ने लोगों को देश को ताकतवर बनाने, भ्रष्ट्रचार से मुक्त करने के लिए संकल्प लेने की अपील की। देश के स्वतंत्रता सेनानी और महापुरुषों के त्याग व योगदानों को याद करते हुए भारत को एक नया भारत बनाने का आग्रह किया। 

मंत्री हर्षवर्धन ने यह भी बताया कि सोमवार रात राज्य के मुख्य सचिव शकुंतला डी गामलिन और अन्य अधिकारियों के साथ एक बैठक करते हुए राज्य की समस्यओं के बारे में जानकारी लेते हुए विज्ञान विभाग की योजनाओं पर विस्तार से जानकारी ली।

प्रधान मंत्री द्वारा नया भारत बनाने के संकल्प में पूरे जोश के साथ शामिल होने पर अरुणाचल प्रदेश के राजनेता, भाजपा कार्यकर्ता, व्यापारी और आम लोगो को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि इस स्वच्छता अभियान को जीवन का एक अंग बनाए और अपना कुछ समय देकर इस अभियान को सफल बनाएं।