बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुर ने राज्यसभा में कृषि विधेयकों के पेश करने के बाद विपक्षी सदस्यों द्वारा उपसभापति हरिवंश के साथ किए गए व्यवहार की निंदा करते हुए कहा कि राज्यसभा में रविवार को जो भी करने की कोशिश की गई, वह बुरा हुआ। उन्होंने कहा कि संसद में पास कृषि विधेयकों से किसानों को बहुत लाभ होगा।

मुख्यमंत्री सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बिहार की कई सडक़ और पुल योजनाओं के शिलान्यास कार्यक्रम में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जुड़े हुए थे। उन्होंने कहा कि रविवार को राज्यसभा में जो कुछ भी हुआ वह गलत हुआ, इसकी जितनी निंदा की जाए कम है। उन्होंने कहा कि राज्यसभा से भी कृषि विधेयक पास हो गया। उन्होंने कहा, ‘‘संसद से पारित नए कृषि विधेयकों से किसानों को काफी लाभ पहुंचेगा। इससे किसानों की आमदनी बढ़ेगी। यह विधेयक किसानों के हित में है।’’

उन्होंने कहा कि आम लोगों के हक में काम हुआ है, जब इसका लाभ मिलेगा तब चीजें स्पष्ट होंगी। उन्होंने कहा कि पहले ही बिचौलियों को समाप्त कर दिया गया है। जदयू अध्यक्ष ने दावा किया कि बिहार की जनता राज्य और केंद्र की सरकार का काम देख रही है। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि विपक्ष की बातों का जनता पर कोई प्रभाव नहीं है।

नीतीश ने सोमवार को शुरू हो रही योजनाओं के लिए प्रधानमंत्री का अभिनंदन करते हुए कहा कि इन योजनाओं के शुरू होने से उन्हें खुशी हुई है। उन्होंने प्रधानमंत्री को दिल्ली-गाजीपुर सडक़ को बिहार के बक्सर तक बढ़ाने का आग्रह करते हुए कहा कि इससे बिहार का लखनऊ, दिल्ली से जुडऩे का एक और विकल्प खुल जाएगा।