कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत ने त्रिपुरा के लोगों से अपील की कि वे लोकतंत्र को बचाने के लिए कांग्रेस को वोट दें। रावत ने कांग्रेस भवन में आयोजित एक प्रेस वार्ता में सीपीएम और बीजेपी दोनों पर हमला किया। उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि सीपीएम और बीजेपी दोनों ऐसी पार्टियां हैं जो संवैधानिक लोकतंत्र में यकीन नहीं रखती हैं। कांग्रेस एकमात्र राजनीतिक पार्टी है जो लोकतांत्रिक मूल्यों को बनाए रखती है।


रावत ने यह भी कहा कि त्रिपुरा के लोग वाम मोर्चा शासनकाल में कुशासन एवं बेरोजगारी से त्रस्त हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस यदि त्रिपुरा की सत्ता में आती है तो वह राज्य का भरपूर विकास करेगी। उन्होंने कहा कि मैं राज्य के लोगों से अपील करता हूं कि वह बीजेपी और वाम दलों पर कांग्रेस को चुनें ताकि लोकतंत्र को बचाया जा सके।


बता दें कि त्रिपुरा में होने वाला विधानसभा चुनाव जहां एक तरफ  बीजेपी के लिए राज्य में उगते सूरज की किरण लेकर आ रहा है, तो वहीं देश में अपने खोते अस्तित्व को बचाने में जुटी कांग्रेस के लिए यह चुनाव किसी जंग से कम नहीं है। आने वाले दिनों के चुनाव में कांग्रेस के लिए सबसे बड़ी चुनौती उन सीटों को बचाने की है जहां से पार्टी के टिकट पर चुनाव जीतने वाले विधायक बीजेपी के साथ जा चुके हैं। दल बदल के असर वाली इन सीटों में सबसे पहला नाम मोहनपुर विधानसभा सीट का है। त्रिपुरा की 60 सदस्यीय विधानसभा के लिए 18 फरवरी को वोट डाले जाएंगे, वहीं तीन मार्च को परिणाम आएंगे।