असम में मोरीगांव जिले के झारगांव इलाके में दुर्घटनावश ग्रेनेड फटने से दो लोग घायल हो गये। पुलिस के मुताबिक प्रारंभिक जांच में खुलासा हुआ कि ग्रेनेड सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की टीम का था जो इलाके में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर का मसौदा जारी होने के बाद ड्यूटी पर तैनात थी। 

बीएसएफ कर्मियों से ग्रेनेड खो गया था, जिसे स्थानीय लोगों की मदद से ढ़ूढ़ा जा रहा था। स्थानीय व्यक्ति सुशील सरकार ने ग्रेनेड पाया और सुरक्षा पिन को हटा दिया, जिसके कारण उसमें विस्फोट हो गया। घायलों में सुशील के अलावा सागर मंडल है, जिनका स्थानीय अस्पताल में प्राथमिक उपचार किया गया। पुलिस ने घटनास्थल से ग्रेनेड के अवशेष को जब्त कर लिया है। पुलिस ने बताया कि बीएसएफ के उच्च अधिकारियों को घटना के बारे में सूचित कर दिया गया है।