कोरोना के कमजोर होते ही सभी सरकारों ने ढील देना शुरू कर दिया है। कोरोना के करण अर्थव्यवस्था कमजोर हो गई थी हालात खस्ता होने का सरकार ने बाजारों और यात्रों की छूट दे दी है। इसी तरह से सऊदी अरब सरकार ने भी यात्रा करने की इजाजत दे दी है। यहां की सरकार ने हज यात्रा में नागरिकों को भी मंजूरी दे दी है। इस बार हज यात्रा के लिए तीन पैकेज को मंजूर किया गया है।


लोग हज के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं जिसकमें महिलाएं भी शामिल हैं। सऊदी अरब सरकार पहले ही साफ कर चुकी है कि इस साल भी 2020 की तरह सिर्फ सऊदी अरब के नागरिक ही हज कर सकेंगे। पहले आवेदन करने वालों के लिए कोई वरीयता नहीं है। बता दें कि तीन पैकेज के लिए कीमत 16,560.50 सऊदी रियाल (करीब सवा तीन लाख रुपए), 14,381.95 सऊदी रियाल (2.80 लाख रुपए) और 12,113.95 सऊदी रियाल (2.36 लाख रुपए) रखी गई है।


ध्यान दें कि इस पैकेज में वैट (वैल्यू एडेड टैक्स) अलग से जुड़ेगा। हज और उमरा मंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक, लोगों को बसों में पवित्र स्थल तक ले जाएगा औक हर वाहन में अधिकतम 20 यात्री ही होंगे। पैकेज के मुताबिक हज यात्रियों को मीना में तीन वक्त का खाना और अराफात में नाश्ता और दोपहर का खाना उपलब्ध कराया जाएगा। मुजादलिफा में रात का भोजन दिया जाएगा। जानकारी दे दें कि मक्का के बाहर से यात्रियों को खाना लाने की इजाजत नहीं हैं।