मानसून में बाल झड़ने की समस्या बहुत ही ज्यादा होती है। बालों की इस समस्याज को ठीक करने के लिए वे शैंपू, तेल बदलने की जरूरत नही है। कैमिकल युक्ता दवाओं के कुछ ना कुछ साइड इफेक्ट स भी होते हैं। लेकिन इन्हीं के साथ साथ कुछ गलतियों की वजह से बाल झड़ने की समस्या  आती हैं।

कई बार हेयर वॉल्यूम को बेहतर दिखाने की कोशिश में हम उन प्रोडक्टथ का प्रयोग करते हैं जो बालों को नुकसान पहुँचा सकते हैं। इनके कई साइड इफेक्ट  होते हैं जिसका एक कारण हेयर फॉल की समस्या है।
ऑयलिंग न करना भी बाल झड़ने क समस्या हो सकती है। जब भी शैंपू करें तो शैंपू से 1 घंटे पहले सिर में तेल डालना ना भूलें।

हीटिंग टूल्स  का प्रयोग और स्टाइलिंग प्रोडक्ट हानिकारक होते हैं और उन्हेंे बहुत नुकसान पहुंचाते हैं। इस आदत की वजह से बाल कमजोर पड़ने लगते हैं और धीरे धीरे गिरने लगते हैं।


डाइट में अधिक ऑयली, फास्ट फूड या अनहेल्दी फूड्स को शामिल करते हैं तो शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है और बाल कमजोर होकर गिरने लगते हैं। ऐसे में घर का हेल्दी फूड खाएं और अपनी डाइट में हरी सब्जियों, सलाद, दही, छाछ, ताजे फल और स्प्राउट्स आदि को शामिल करें।

 
रगड़कर पोंछना नहीं चाहिए। इससे बालों को नुकसान होता है और बाल के जड़ कमजोर होने लगते हैं। इसलिए गीले बालों को रगड़ने की बजाय सिर्फ तौलिए को लपेटें।