राज्य में तीसरे चरण के मतदान के लिए कोकराझाड़ में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए बीपीएफ अध्यक्ष हाग्रामा मोहालारी ने दावा किया कि इस बार केंद्र में फिर से एनडीए की सरकार बनेगी। उन्होंने दावा किया कि राज्य में भाजपा, बीपीएफ और अगप गठबंधन को ग्यारह सीटें मिलनी तय है।

कोकराझाड़ जिले के झारबाड़ी, दुरामारी और सालाकाटी में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए बीपीएफ अध्यक्ष मोहिलारी ने एनडीएफबी और आब्सू समर्थित यूपीपीएल की आलोचना करते हुए कहा कि यूपीपीएल को एनडीएपबी जैसे संघठन का सहयोग प्राप्त है और एनडीएफबी ने आज तक बंदूक की ताकत पर ही काम किया है। आम जनता को एनडीएफबी ने काफी परेशान किया है। क्या आप ऐसे किसी दल के उम्मीदवार को अपना प्रतिनिधि बनाकर लोकसभा में भेजना चाहेंगे जिसने हिंसा को ही अपना मकसद बना लिया हो। एनडीएफ भी पिछले कई वर्षों से सरकार के साथ शांति वार्ता कर रहा है, लेकिन अभी तक किसी प्रकार की समस्या का समाधान नहीं हो सका।


उन्होंने कहा कि जब तक एनडीएफबी के तीनों गुट एक साथ मिलकर वार्ता नहीं करते, किसी भी समस्या का समाधान नहीं हो सकता है। छह समुदायों को एसटी का दर्जा देने को लेकर उन्होंने कहा कि आब्सू इसका विरोध कर रही है, लेकिन छह समुदायों को एसटी का दर्जा जरूर मिलेगा, इसके साथ गोर्खा समुदाय को भी एसटी दर्जा मिलेगा।


उन्होंने जनता से आह्वान किया कि बीपीएफ के उम्मीदवार को अपना बहुमूल्य वोट देकर जिताएं। बीपीएफ आपके साथ रहा है और आगे भी रहेगा। हमारा मुख्य लक्ष्य विकास है। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद विश्वजीत दैमारी ने भी चुनावी रैली को संबोधित करते हुए बीपीएफ की उम्मीदवार प्रमिला रानी ब्रह्म को भारी मतों से जिताने का आह्नान किया।