असम में हिंसा की घटनाओं को देखते हुये विमान सेवा कंपनियों ने गुवाहाटी तथा डिब्रूगढ़ हवाई अड्डों को जाने वाली और वहां से आने वाली उड़ानें गुरुवार को लगातार दूसरे दिन रद्द कर दी हैं जबकि नागर विमानन मंत्रालय ने कहा है कि वह स्थिति पर नजर बनाये हुये है। नागर विमानन मंत्रालय ने  आधिकारिक बयान में लिखा है कि हवाई अड्डे को जोड़ने वाले सडक़ मार्ग के अवरुद्ध होने के कारण डिब्रूगढ़ हवाई अड्डे पर यात्रियों की आवाजाही बाधित हुई है। 

हवाई अड्डे पर फंसे यात्रियों को स्थानीय प्रशासन द्वारा हर प्रकार की जरूरी सुविधा दी जा रही है। उसने कहा, इन यात्रियों को चरणबद्ध तरीके से निकाला जा रहा है। उड़ानों के परिचालन में 12 दिसंबर को आयी अस्थायी बाधा पर करीबी नजर रखी जा रही है। विमान सेवा कंपनियों तथा अन्य हितधारकों के साथ सलाह-मशविरा कर स्थिति सामान्य होते ही हवाई अड्डे से परिचालन शुरू किया जायेगा। 

इंडिगो ने एक बयान जारी कर बताया कि गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ को जाने वाली उसकी सभी उड़ानें आज रद्द रहेंगी। इन हवाई अड्डों में फंसे यात्रियों को निकालने के लिए तय अधिकतम किराये के साथ राहत उड़ानों का फैसला किया है। इसके अलावा उसने गुवाहाटी, डिब्रूगढ़ और जोरहाट हवाई अड्डों के लिए 13 दिसंबर तक जाने और वहां से आने वाली उड़ानों के टिकट रद्द कराने या उनकी तिथि में बदलाव पर शुल्क माफ करने की घोषणा की है। 

गोएयर और स्पाइसजेट ने भी 13 दिसंबर तक की उड़ानों के टिकट रद्द कराने और तिथि में बदलाव का शुल्क माफ करने की घोषणा की है। विस्तारा ने कहा है कि सरकार की सलाह पर उसने डिब्रूगढ़ और बागडोगरा के बीच आज की अपनी दोनों उड़ानें रद्द कर दी हैं। उसने गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ हवाई अड्डों को जाने तथा वहां से आने वाली उड़ानों के 15 दिसंबर तक के टिकट रद्द कराने या तिथि में बदलाव का शुल्क माफ करने की घोषणा की है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360