चक्रवात Gulab के बाद अब Shaheen Cyclone का खतरा मंडरा गया है। गुलाब चक्रवात आज अरब सागर में प्रवेश करने के साथ ही मजबूत होकर शाहीन चक्रवाती तूफान का रूप लेकर पाकिस्तान की ओर बढ़ेगा। गुलाब चक्रवात के इस हिस्से के चलते गुजरात के कई हिस्सों में बारिश होगी। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा है कि बुधवार को निम्न दबाव का क्षेत्र यानि चक्रवात गुलाब का बाकी हिस्सा दक्षिण गुजरात क्षेत्र एवं आसपास की खंभात की खाड़ी के ऊपर बना है।

यह भी पढ़ें— अब नहीं बचेंगे अफगानिस्तान के आतंकी, Russia और US मिलकर करेंगे इतना बड़ा हमला

मौसम विभाग के अनुसार यह पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर बढेगा एवं उत्तरपूर्व अरब सागर में उभरकर गहरे दबाव में तब्दील होकर मजबूत हो रहा है। इसके बाद यह पश्चिम और पश्चिम-उत्तरपश्चिम की ओर बढ़ने एवं अगले 24 घंटे में चक्रवाती तूफान का रूप ले लेगा। इसके बाद यह तूफन भारतीय तट से दूर पाकिस्तान के मकरान तटों से टकराने वाला है।इस तूफान की वजह से गुजरात में सौराष्ट्र और कच्छ में कुछ स्थानों पर हल्की, मध्यम से लेकर भारी तथा छिटपुट स्थानों पर भीषण वर्षा हो सकती है। वहीं, दमन दीव, दादर एवं नागर हवेली में मूसलाधार एवं कुछ स्थानों पर भीषण बारिश होने के आसार हैं। उत्तरी कोंकण में छिटपुट स्थानों पर भीषण वर्षा होने की आशंका है।गुलाब तूफान की वजह से मध्य महाराष्ट्र में भारी बारिश हो सकती है। हालांकि, चक्रवात ‘कम दबाव के क्षेत्र’ से शुरू होता है और चक्रवात प्रणाली के तट से टकराते ही इसकी तीव्रता कम हो जाती है क्योंकि नमी की मात्रा कम हो जाती है। चक्रवात गुलाब पूर्वी तट पर श्रीकाकुलम और विशाखापत्तनम के बीच तट से टकराया और पश्चिम की तरफ बढ़ते हुए महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और गुजरात में पिछले तीन दिनों में इसके कारण भारी बारिश हुई।