इलेक्ट्रिक वाहन खरीदना अब और अधिक सस्ता हो गया है। गुजरात के मुख्यमंत्री, विजय रूपाणी ने हाल ही में गुजरात इलेक्ट्रिक वाहन नीति 2021 की घोषणा की। इसके तहत अब राज्य सरकार अगले चार सालों में सब्सिडी सहायता के रूप में 870 करोड़ रुपये देगी। गुजरात सरकार इलेक्ट्रिक कार को खरीदने पर 1.5 लाख रुपये या प्रति kWh पर 10,000 तक की सब्सिडी देगी।

गुजरात सरकार की तरफ से इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों और इलेक्ट्रिक तीनपहिया वाहनों पर 20,000 रुपये और 50,000 रुपये की सब्सिडी देगी। नीति में यह भी कहा गया है कि सभी इलेक्ट्रिक वाहनों को पंजीकरण शुल्क से छूट दी जाएगी। बता दें कि गुजरात सरकार का लक्ष्य अगले चार सालों में कम से कम दो लाख इलेक्ट्रिक वाहनों को सड़कों पर उतारना है। गुजरात सरकार किसी भी दूसरे राज्य की तुलना में प्रति किलोवाट पर दोगुनी सब्सिडी देगी।

इससे पहले केंद्र सरकार की तरफ से हाल ही में FAME II नीति में संशोधन किया गया। इस संशोधन के कारण इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों पर पहले के मुकाबले ज्यादा सब्सिडी मिलने लगी है। पहले इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों पर 10,000 रुपये प्रति kWh की सब्सिडी मिलती थी। लेकिन, अब 15,000 रुपये प्रति kWh तक की सब्सिडी मिल रही है। इसका असर भी दिखने लगा है। यही कारण है कि इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों की कीमतों में भारी कटौती देखी जा रही है।