गुजरात सरकार ने गाय की हत्या करने वालों के खिलाफ सख्त रूख अपना लिया है। राज्य की विधानसभा में शुक्रवार को गोहत्या संशोधन बिल पारित हो गया। इसमें गोरक्षा के लिए बेहद सख्त प्रावधान किए गए हैं। अब गाय की हत्या करने पर उम्रकैद की सजा हो सकती है।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने पूर्व में ही इसके संकेत दे दिए थे। रुपाणी ने कहा कि गोरक्षा के सभी प्रयास सरकार करेगी। उसी के तहत यह नया कानून लाया गया है। नए कानून को सख्ती से लागू किया जाएगा। नए कानून के बाद गोहत्या के दोषियों को उम्रकैद के साथ एक लाख रुपए का जुर्माना भी देना होगा। साथ ही गोमांस ले जाने पर 7 से 10 साल की सजा का प्रावधान किया गया है। गौरतलब है कि गुजरात में गोहत्या पर कानून पहले से था।

अब कानून को और सख्त बनाया गया है। कानून बनने से पहले पिछले सप्ताह राज्य के मुख्यमंत्री ने कहा था कि प्रदेश सरकार गो हत्या के कानूनों को और सख्त करेगी। राज्य में इसी साल नवंबर में चुनाव है। इस कानून को भाजपा की चुनावी तैयारियों के रूप में देखा जा रहा है। पिछले साल ऊना में गो हत्या का शक होने पर कुछ लोगों ने दलितों की पिटाई कर दी थी। घटना के विरोध में देश भर में प्रदर्शन हुए थे।