एक गेस्ट लेक्चरर को न्यूज पेपर तथा हाईकोर्ट के जज के कार्यालय पर हमला करने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया है। यह घटना त्रिपुरा की है जहां त्रिपुरा यूनिवर्सिटी में गेस्ट लेक्चरर के रूप में पढ़ाने वाले मोती कपूर पर हाईकोर्ट के वर्तमान जज व न्यूज पेपर के कार्यालय पर हमला करने का आरोप था। इसके बाद लेक्चरर को गोगोती जिले के अमरपुर से गिरफ्तार ​कर लिया गया। हालांकि इससे पहले लेक्चरर के साथी समरजीत चक्रबर्ती को पहले ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। मुख्य आरोपी मोती कपूर अमरपुर गांव में गुप्त स्थान पर छिपा हुआ बताया गया है।

बताया गया है कि आरोपी मोती ने अपनी दाढ़ी—मूंछे और सिर के बाल मुंडवा लिए थे और रिक्शा चालक के रूप में छिपकर रह रहा था। पश्चिमी अगरतला पुलिस सुप्रीटेंडेंट देब प्रसाद रॉय ने कहा कि अब इन दोनों ही लोगों को पकड़ लिया गया है।

सामने आया है कि मोती कपूर मूलत: महाराष्ट्र का रहने वाला है और वह त्रिपुरा यूनिवर्सिटी के सोशोलॉजी विभाग में गेस्ट लेक्चरर के रूप में कार्य कर रहा था। इससे पहले एक वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमें वो क्लासरूम में ही गाना गाते हुए कराटे की कलाएं दिखा रहा था।

मोती द्वारा हमला करने की घटना की खबर न्यूज पेपर ने छापी थी जिस दौरान उसका एक पत्रकार भी घायल हुआ था। हालांकि इसके बाद लेक्चरर को सस्पेंड कर दिया गया और उसके खिलाफ पश्चिमी अगरतला में एफआईआर दर्ज कराई गई।