स्वीडन की पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग ने भारत में कोरोना से बने हालातों और देश में लगातार फैल रहा कोरोना संक्रमण पर गहरी चिंता जाहीर की है। बता दें कि देश में कोरोना बहुत ही तेजी से फैल रहा है। वैक्सीन की कमी के साथ साथ ऑक्सीजन की भी भारी कमी देखी जा रही है। ग्रेटा ने ट्वीट कर दुनियाभर के देशों से भारत की सहायता करने की अपिल की है। ग्रेटा ने ट्वीट कर कहा कि भारत में कोविड की ताजा स्थिति देखकर बहुत दुख है।

ग्रेटा ने भारत के हालातों पर वैश्विक समुदाय को कदम उठाने और तुरंत आवश्यक सहायता प्रदान करने की अपील की है। बता दें कि भारत देश में ग्रेटा थनबर्ग किसान आंदोलन के दौरान विवादित टूलकिट के वायरल होने के बाद विवादों में घिर गई थी लेकिन बाद में जांच से सामने आया था कि ग्रेटा की कोई गलती नहीं थी। बीजेपी के कई नेताओं समेत कई लोगों ने आरोप लगाया था कि भारत विरोधी साजिश के तहत ये टूलकिट शेयर कराए जा रहे हैं।

जानकारी के लिए बता दें कि ग्रेटा थनबर्ग को जलवायु संकट के खिलाफ लड़ाई में सबसे अग्रणी वक्ता के रूप में जाना जाता है। ग्रेटा थनबर्ग ने अपने भाषणों से लोगों को दिल जीता है। 16 साल की ग्रेटा थनबर्ग पर्यावरण ऐक्टिविस्ट को प्रतिष्ठित टाइम मैगजीन ने 2019 का 'पर्सन ऑफ द ईयर' चुना गया था।