सिक्किम के राज्यपाल गंगा प्रसाद ने कहा कि एकजुटता एवं एकता के साथ चलने वाले बिहारी समुदाय का राज्य के विकास में एक बड़ा योगदान है। वे सिक्किम बिहारी जागरण मंच के केंद्रीय व जिला स्तरीय नवनिर्वाचित कार्यकारी सदस्यों के शपथ ग्रहण समारोह में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में समारोह को संबोधित कर रहे थे। 

इस समारोह में मंच की 25वीं वर्षगांठ अर्थात रजत जयंती भी मनाई गई। इस अवसर पर उनका अभिनंदन भी किया गया। शहर के नामनांग स्थित चिंतन भवन में आयोजित समारोह में राज्यपाल ने नवनिर्वाचित सदस्यों को बधाई एवं शुभकामना दी। उन्होंने समुदाय द्वारा की जाने वाली विकास की हर पहल में यथाशक्ति मदद देने का आश्वासन दिया। उन्होंने राज्य में सभी समुदाय के अधिकार को सुनिश्चित करने का भी आग्रह किया। उक्त अवसर पर बतौर विशिष्ट अतिथि वन मंत्री छिरिंग वांगदी लेप्चा ने बिहारी समुदाय द्वारा राज्य के समुचित विकास में योगदान देने तथा इसका मूल्यांकन समाज द्वारा होना आवश्यक बताया। हालांकि राज्य सरकार द्वारा बिहारी समुदाय के लोगों के विकास में भी विभिन्न योजनाओं व कार्यक्रमों में राशित आवंटन करने की आवश्यकता जताई। 

उन्होंने राज्य के अन्य समुदायों के साथ पूरी एकता एवं भाइचारे के साथ रहने के लिए प्रशंसा की। इस अवसर पर पूर्वी सिक्किम सेंट्रल पांडम के विधायक गोपाल बराइली ने मंच द्वारा पूरे समुदाय को एकजुट करने की जिम्मेदारी लेने तथा समुदाय के समुचित विकास में भी पहल करने को आश्वस्त किया। इस अवसर पर मंच के अध्यक्ष स्वामीनाथ प्रसाद एवं महासचिव वीरेंद्र प्रसाद ने भी संबोधित किया। समारोह में राज्यपाल व अन्य विशिष्ट अतिथियों को स्मृति चिन्ह दिया गया।