तांदोग स्थित सिक्किम मनिपाल विश्वविद्यालय के कैंपस में दीक्षांत समारोह का उद्घाटन सिक्किम के राज्यपाल श्रीनिवास पाटिल ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस अवसर में पाटिल ने कहा कि हमारी संस्कृति आपसी तालमेल,सहायता,समझ और संबंध पर आधारित है। राज्यपाल ही विश्वविद्यालय के कुलपति भी हैं।


उन्होने कहा कि हमारी सांस्कृतिक विरासत में मानव मूल्यों को सर्वप्रथम स्थान दिया गया है। उच्च शिक्षा में भी इन विरासतों के मूल्यों को सहेजने की विशेष आवश्यकता है। सिक्किम मनिपाल यूनिवर्सिटी ने विगत 1995 से विश्व समुदाय के समक्षे इसी महत्व को अपने पाठ्यक्रम में स्थान दिया है। इस गुण का कार्पोरेट जगत को भी अनुसरण करना चाहिए।


समारोह में प्रो चांसलर राजेन पदुकोण, राज्य के मुख्य सचिव एके श्रीवास्तव, उपकुलपति सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल एमडी वेंकटेश्वर, मनिपाल एज्यूकेशन एंड मेडिकल ग्रुप चेयरमैन डा. रंजन पाई, रेजिस्ट्रार प्रो आशीष शर्मा तथा अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम के दौरान विभिन्न विधाओं में उच्च स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कृत भी किया गया।