अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल बि्रगेडियर (सेवानिवृत) बीडी मिश्रा ने तेजपुर विश्वविद्यालय में आयोजित 'एक भारत श्रेष्ठ भारत' समारोह में भारतवर्ष के विभिन्न स्थानों से प्रशिक्षण प्राप्त करने आए कैडरों को संबोधित करते हुए कहा कि जो राष्ट्र हित के लिए एक वीर सैनिक की तरह पूर्ण अनुशासन एवं देशभक्ति के साथ अपने दायित्वों एवं कर्तव्यों को निर्वाह करने की चाह रखते हों, उनके लिए एनसीसी के लाखों कैडेटों के कठोर परिश्रम, त्याग, समर्पण एवं कष्ट सहन की क्षमता उन्हें देश का जिम्मेदार नागरिक बनाने में मदद करता हैं।


उन्होंने राष्ट्रीय एकता पर जोर डालते हुए कहा कि मुझे यह देखकर खुशी हो रही है कि आज यहां भारत के विभिन्न स्थानों से कैडर एकत्रित हुए हैं और लग रहा है क्षेत्र, प्रदेश, जाति, पंथ, भाषा आदि के आधार पर आम भारतीय जन की पृथकता की कल्पना भ्रामक है। विविधता में एकता हमारी विशेषता रही है तथा देश एक मंदिर हैं। राज्यपाल ने सभी कैडरों को अनुशासन, नैतिक चरित्र, दृढ़ संकल्प तथा आत्मविश्वास के साथ जीवन में आगे बढ़ते रहने का अह्वान किया।


बाद में उन्होंने व्यक्तिगत रूप से बडी़ ही सहजता, सरलता एवं आत्मीयता के साथ विभिन्न स्थानों से आए कैडेटों से कई प्रश्न पूछे, जिनका जवाब कैडरों ने बडे़ ही आत्मविश्वास के साथ दिया। साथ ही पुरूष तथा महिला कैडरों ने राज्यपाल को थल, वायु एवं जल सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करने की इच्छा व्यक्त की। नार्थ ईस्टर्न रीजन डायरेक्टोरेट शिलॅान्ग के तत्वाधन में गत 1 से 12 जनवरी तक इस शिविर का आयोजन तेजपुर विश्वविद्यालय में किया गया है।


इस अवसर पर नार्थ ईस्टर्न रीजन डायरेक्टोरेट, शिलाॅन्ग के एडिशनल डायरेक्टर जनरल, एनसीसी, मेजर जनरल राजू चौहान ने राष्ट्रीय एकता पर जोर देते हुए कैडरों को कहा कि इस शिविर से आपकों जीवन में जिम्मेवारी के साथ आगे बढ़ने में मदद मिलेगी। तेजपुर एनसीसी ग्रूप के कमांडेंट बिग्रेडियर के श्रीनिवास राव ने भी अपने विचार व्यक्त किए तथा कर्नल पाटिल ने ध्न्यवाद ज्ञापन प्रस्तुत किया।