आंध्र प्रदेश सरकार ने कडापा जिले की चूना पत्थर खदान हुए जोरदार विस्फोट ने पूरे राज्य को हिलाकर रख दिया है। इस विस्फोट से मरने वाले 10 मजदूरों के परिजन को 10-10 लाख रुपये की सहायता राशि देने की सरकार ने घोषणा की है। राज्य के खनन एवं भूविज्ञान मंत्री पीआरसी रेड्डी ने इसके बारे में जानकारी दी है और इस धमाके के बारे में जांच क कमेटी भी बनाई है।

 

 

खनन मंत्री ने बताया कि विस्फोटक उतारते समय खनन संचालक ने लापरवाही बरती, जिससे विस्फोट हुआ है। उन्होंने कहा कि श्रम अधिनियम के तहत खनन संचालक से पीड़ित परिवारों को अतिरिक्त मुआवज़ा दिलाया जाएगा। कडापा जिले के पुलिस अधीक्षक के अंबुराजन ने बताया कि यह हादसा तब हुआ जब मामिलपल्ले गांव के बाहर स्थित चूना पत्थर की खदान में जिलेटिन की छड़ों की एक खेप उतारी जा रही थी। धमाका इतना तेज था कि वाहन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया।

 

 

 

इस हादसे में 10 मजदूरों की मौत की पुष्टि हुई है। क्षत-विक्षत शव के टुकड़े बिखरे होने के कारण मृतकों की पहचान करने में बहुत मुश्किल हो रही है। पुलिस अधिकारी जांच में जुटे हुए हैं। कोरोना के चलते जांच में कई तरह की सावधानियां बरती जा रही है। शवों की पहचाने के लिए डॉक्टर्स की मदद ली जा रहा है।