केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर (Anurag Singh Thakur) ने कहा है कि केंद्र सरकार खेलों पर पैसा खर्च करने से कतरा नहीं रही है। सरकार को खेलों का बजट बढ़ाने में भी कोई हिचकिचाहट नहीं हो रही है। ठाकुर ने सोमवार को सात पूर्व अंतरराष्ट्रीय एथलीटों की मौजूदगी वाली पुनर्गठित मिशन ओलंपिक सेल (Mission Olympic Cell) (एमओसी) को संबोधित करते हुए कहा कि एमओसी की बड़ी जिम्मेदारी है कि वह संस्थागत ढांचे को मजबूत करके भारतीय पारिस्थितिकी तंत्र में अधिक सकारात्मकता का माहौल बनाने में मदद करे ताकि देश 2024 पेरिस ओलंपिक खेलों में बेहतर प्रदर्शन कर सके। 

खेल मंत्री ने कहा कि इसकी जांच करना उचित होगा कि क्या ‘लक्ष्य ओलंपिक पोडियम’ (Olympic Podium) योजना ने भारत को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लाभ देने में मदद की है और राष्ट्रीय खेल संघों को अपने एथलीटों को उच्च प्रदर्शन के नजरिए से बेहतर बनाने में मदद की है। उन्होंने प्रदर्शन के निष्पक्ष मूल्यांकन का आह्वान करते हुए ओलंपिक खेलों, एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों जैसे बड़े टूर्नामेंटों पर अधिक ध्यान देने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि सदस्यों के पास कुछ बदलावों का सुझाव देने का अनुभव है जो भारत को पेरिस में ओलंपिक खेलों (Olympic Games in Paris) में बेहतर परिणाम प्राप्त करने में मदद करने के लिए प्रणाली को बदल सकते हैं।  

ठाकुर (Anurag Singh Thakur) ने एमओसी का हिस्सा बनने के लिए सदस्यों को धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्हें यकीन है कि भारतीय खेल में उनके प्रदर्शन और भागीदारी के साथ वे मंत्रालय को अगले साल होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाई खेलों को ध्यान में रखते हुए 2024 में पेरिस ओलंपिक खेलों के लिए रोडमैप तैयार करने में मदद करेंगे। उल्लेखनीय है कि सात नए लोगों के साथ एमओसी में पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों की संख्या अब आठ हो गई है। 

इसमें भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (Athletics Federation of India) के वर्तमान अध्यक्ष एडिले जे सुमरिवाला एक ओलंपियन हैं और टारगेट ओलंपिक पोडियम कैडर के सीईओ हैं। इसमें विश्व चैंपियन नाविक पुष्पेंद्र गर्ग भी हैं। एमओसी सदस्यों में विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप लंबी कूद की पदक विजेता अंजू बॉबी जॉर्ज, भारत के पूर्व हॉकी कप्तान सरदार सिंह, दिग्गज राइफल निशानेबाज अंजलि भागवत, भारत की पूर्व फुटबॉल कप्तान बाइचुंग भूटिया, पूर्व हॉकी कप्तान और सीईओ ओलंपिक गोल्ड क्वेस्ट वीरेन रासकिन्हा, टेबल टेनिस स्टार मोनालिसा मेहता और अनुभवी बैडमिंटन खिलाड़ी तृप्ति मुर्गंडे शामिल हैं।