सरकार को इंटरनेट मीडिया के इस्तेमाल पर कोई आपत्ति नहीं है, सवाल इन प्लेटफा‌र्म्स के दुरुपयोग का है। सरकार इंटरनेट मीडिया के दुरुपयोग के शिकार लोगों की आवाज है और चाहती है कि देश में इन प्लेटफा‌र्म्स पर शिकायतों के निपटारे का तंत्र बने। एक कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को यह बात कही।

प्रसाद ने कहा, 'आपके पास शिकायत निवारण का एक तंत्र होना चाहिए, ताकि कोई चाहे तो अपनी शिकायत वहां दर्ज करा सके।' उन्होंने कहा कि सरकार आलोचना के खिलाफ नहीं है। केंद्रीय मंत्री ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 साल से ज्यादा समय झूठे आरोपों और अभियान का शिकार रहे हैं।

 हम आलोचना का स्वागत करते हैं और यह आलोचना प्रधानमंत्री, सभी मंत्रियों और पूरी सरकार की हो सकती है।' सरकार ने हाल ही में इंटरनेट मीडिया, ओवर द टॉप (ओटीटी) प्लेटफार्म और डिजिटल न्यूज मीडिया के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि किसी के पहनावे को लेकर आलोचनात्मक नहीं होना चाहिए। फटी जींस पहनने को लेकर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की टिप्पणी से उपजे विवाद को लेकर पूछे जाने पर प्रसाद ने यह कहा। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री पहले ही माफी मांग चुके हैं। मुद्दे को ज्यादा तूल नहीं दिया जाना चाहिए। इसी कार्यक्रम में हिस्सा ले रहीं केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि राजनेताओं को किसी के पहनावे पर टिप्पणी नहीं करनी चाहिए। उनका काम नीतियां बनाना और कानून व्यवस्था सुनिश्चित करना है।