सुल्ली डील (sully deal) और बुल्ली बाई ऐप (Bulli Bai App) के बाद सोशल मीडिया पर अब एक नया विवाद खड़ा हो गया है, जहां अब अपमानजनक शब्दों और तस्वीरों के साथ हिंदू महिलाओं को निशाना बनाया जा रहा है। इसकी शुरूआत एक टेलीग्राम ऐप (hindu girl) आधारित चैनल से हुई, जहां हिंदू महिलाओं के बारे में अत्यधिक अपमानजनक पोस्ट अपलोड किए जा रहे थे। सोशल मीडिया पर विवाद के बाद भारत सरकार ने चैनल को ब्लॉक कर दिया और इसके पीछे लोगों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

देश में चल रहे सुल्ली डील (sully deal)  और बुल्ली बाई (Bulli Bai App) विवाद के बीच इसी तरह के एक और अपमानजनक चैनल के सामने आने की खबर के बाद हडक़ंप मच गया। दरअसल इस चैनल के जरिए हिंदू महिलाओं को निशाना बनाया जा रहा था। टेलीग्राम पर बने इस चैनल में सिर्फ हिंदू लड़कियों और महिलाओं की तस्वीरें साझा की गई थीं। वहीं दूसरी ओर सुल्ली डील (sully deal) और बुल्ली बाई के माध्यम से मुस्लिम महिलाओं को निशाना बनाया जा रहा था, जिसने देशव्यापी विवाद को जन्म दिया। अब विभिन्न सोशल नेटवर्किंग साइटों पर कई अकाउंट्स में हिंदू महिलाओं के बारे में अपमानजनक तस्वीरें और टिप्पणी पोस्ट करते पाए गए हैं।

कुछ अलग-अलग ट्विटर हैंडल ने मामले की सूचना मुंबई और दिल्ली पुलिस को दी और कार्रवाई की मांग की। दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि उन्हें अभी तक कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है और वे उसका इंतजार कर रहे हैं। इस बीच, केंद्रीय सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव (ashwini vaishnav) ने बताया कि उन्होंने एक टेलीग्राम ऐप चैनल को ब्लॉक कर दिया है, जहां इस तरह के पोस्ट अपलोड किए जा रहे थे। उन्होंने बताया कि जांच भी शुरू कर दी गई है। मंत्री ने कहा कि फेसबुक को ऐसे पेजों पर कार्रवाई करने को कहा गया है। जानकारी के मुताबिक ऐसे अकाउंट ट्विटर, फेसबुक, टेलीग्राम चैनल और इंस्टाग्राम पर हैं। विभिन्न लोगों ने ऐसे फेसबुक पेजों के लिंक दिल्ली और मुंबई पुलिस के साथ साझा किए हैं। बुल्ली बाई ऐप में जहां मुस्लिम महिलाओं को बदनाम किया गया था, जिसके बाद मुंबई पुलिस ने वहां के लोगों को गिरफ्तार किया है और अभी भी मामले की जांच कर रही है। दिल्ली पुलिस ने कहा कि वे भविष्य की कार्रवाई तय करने के लिए वरिष्ठों के साथ इस मामले पर चर्चा कर रहे हैं।